Home /News /uttarakhand /

उत्तराखंड में बीजेपी ने की लोकतंत्र की हत्या: शमीम फैजी

उत्तराखंड में बीजेपी ने की लोकतंत्र की हत्या: शमीम फैजी

उत्तराखंड में 15 सालों में 9 मुख्यमंत्री अब बन चुके हैं मगर एनडी तिवारी को छोडकर कोई भी मुख्यमंत्री अपना कार्यकाल पूरा नहीं कर सका है.

उत्तराखंड में 15 सालों में 9 मुख्यमंत्री अब बन चुके हैं मगर एनडी तिवारी को छोडकर कोई भी मुख्यमंत्री अपना कार्यकाल पूरा नहीं कर सका है.

उत्तराखंड में 15 सालों में 9 मुख्यमंत्री अब बन चुके हैं मगर एनडी तिवारी को छोडकर कोई भी मुख्यमंत्री अपना कार्यकाल पूरा नहीं कर सका है.

    प्रदेश के सियासी हालात को लेकर सीपीआई का दो दिवसीय प्रान्तीय कार्यकर्ता सम्मेलन संपन हो गया है. सम्मेलन में प्रदेशभर के पदाधिकारियों ने हिस्सा लिया.

    पार्टी प्रदेश प्रभारी शमीम फैजी ने सम्मेलन में कई मुद्दों केप्रस्ताव को पास कराया. उनका कहना है कि प्रदेश में भाजपा ने लोकतंत्र की हत्या कर दी है. राष्ट्रपति शासन लागू हो चुका है. एक निर्वाचित सरकार अपदस्थ हो चुकी है यह लोकतंत्र के सिद्धांतों और संविधान के मूल्यों के खिलाफ है. उनका कहना है कि जिस तरह से पूर्व मुख्यमंत्री हरीश के काफिले पर पथराव हुआ है यह भी राजनीतिक परम्मराओं के खिलाफ है.

    राजनीति में सिद्धांतों और विचारधाराओं की लडाई होती है. मगर इस तरह से पथरावबाजी करना निश्चित तौर पर गैरकानूनी होने के साथ-साथ राजनीतिक की विरुद्ध है. फिलहाल पार्टी का कहना है कि सीपीआई प्रदेश में तीसरे विकल्प के बारे में तलाश कर रही है. क्योंकि उत्तराखंड में भाजपा और कांग्रेस पार्टी की नीतियों और कार्यशैली से आम जनता परेशान हो चुकी है.

    कॉमरेड शमीम शैफी का कहना है कि उत्तराखंड एक नवोदित राज्य है यहां की भोलीभाली जनता को राजनीतिक दल ठगने का काम कर रहे हैं. आम जनता के हितों की अनदेखी करके दोनी ही राष्ट्रीय दलसत्ता पर काबिज होने के लिए गैर संसदीय हत्थकंडे अपना रहे है, जो प्रदेश हित में नहीं है. उनका कहना है कि 27 मार्च को उत्तराखंड में राष्‍ट्रपति शासन लागू कर दिया गया.

    दरअसल, यहां पर दोनों ही दल क्षेत्रीय दलों की ताकत को बढ़ने नहीं देना चाहते हैं. उनका कहना है कि उत्तराखंड में एक स्थाई सरकार की जरुरत है, जिससे प्रदेश में बुनियादी सुविधाओं का विकास हो सकें . गौरतलब है कि प्रदेश 15 सालों में 9 मुख्यमंत्री अब बन चुके हैं मगर एनडी तिवारी को छोडकर कोई भी मुख्यमंत्री अपना कार्यकाल पूरा नहीं कर सका है.

    प्रदेश में कांग्रेस और भाजपा दोनों ही दलों के राजनेता सत्ता पर काबिज होने के लिए हर संभव जोड़तोड़ कर रहे हैं. ऐसा ना हो तो प्रदेश के हित में है और ना ही आम जनता के हित में. इस तरह भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी प्रदेश में तीसरे विकल्प को बनाने के लिए एक नया मोर्चा बनाने की वकालत कर रही है .

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर