• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttarakhand
  • »
  • DEHRADUN BLACK FUNGUS WILL GET INJECTIONS BUT WILL HAVE TO WAIT FOR THE VACCINE NODSSP

Black Fungus के इंजेक्शन मिलेंगे, लेकिन वैक्सीन के लिए करना होगा इंतजार, सरकार ने भी मानी कमी

उत्तराखंड में वैक्सीन की कमी की वजह से 18 प्लस उम्र वालों को कोरोना का इंजेक्शन नहीं लग पा रहा है.

Uttarakhand corona update: उत्तराखंड में Black Fungus के मरीजों की परेशानी खत्म होने वाली है. क्योंकि ब्लैक फंगस के इंजेक्शन की 15000 डोज़ स्वास्थ्य विभाग को मिलने वाली है. डीजी हेल्थ तृप्ति बहुगुणा का कहना है कि अब ब्लैक पंकज के इंजेक्शन का प्रोडक्शन उत्तराखंड में ही होने लगा है.

  • Share this:
देहरादून. उत्तराखंड में ब्लैक फंगस के मरीजों की परेशानी खत्म होने वाली है, क्योंकि ब्लैक फंगस के इंजेक्शन की 15000 डोज़ हेल्थ डिपार्टमेंट को मिलने वाली है. डीजी हेल्थ तृप्ति बहुगुणा का कहना है कि अब ब्लैक पंकज के इंजेक्शन का प्रोडक्शन उत्तराखंड में ही होने लगा है जिससे अब इंजेक्शन मिलने में आसानी होगी. गुरुवार यानि आज देर शाम तक रुद्रपुर से इंजेक्शन देहरादून पहुंच जाएंगे और फिर प्रदेश के सभी सीएमओ यहां से इंजेक्शन भेज दिए जाएंगे.

आपको बता दें इस वक्त उत्तराखंड के 12 कोविड-19 सेंटर्स में ब्लैक फंगस बीमारी का इलाज हो रहा है. मुख्य सचिव आदेश दे चुके हैं कि सभी 12 अस्पतालों में ब्लैक फंगस के इलाज की पूरी तैयारी की जाए. उत्तराखंड में ब्लैक फंगस की परेशानी तो दूर हो जाएगी, लेकिन वैक्सीन की कमी बनी हुई है. इसे सरकार ने भी स्वीकार किया है.

वैक्सीनेशन के लिए लोगों को करना पड़ रहा है इंतजार
उत्तराखंड में 18 से 44 साल के लोगों की संख्या करीब 50 लाख है, लेकिन मई में शुरू हुए वैक्सीनेशन अभियान में 26 मई तक 2 लाख 46 हज़ार लोगों को ही वैक्सीन की सिंगल डोज़ लग पाई है. वहीं 45 साल से ऊपर के 21 लाख 55 हज़ार लोग वैक्सीन की सेकेंड डोज़ का इंतज़ार कर रहे हैं. और सिर्फ 6 लाख 80 हज़ार लोगों को वैक्सीन की 2 डोज़ लग पाई हैं. ऐसे में अगर यही स्पीड और हाल रहा, तो पूरे वैक्सीनेशन प्रोग्राम में करीब 2 साल का वक्त लग सकता है. जबकि पहले टारगेट हर दिन एक लाख लोगों के वैक्सीनेशन का था। वहीं सरकार और स्वास्थ्य विभाग दोनों ने माना है कि वैक्सीन की कमी है.

वैक्सीन की कमी पर सियासत शुरू 

वैक्सीन की कमी पर सियासत भी शुरू हो गई है, वैक्सीन की कमी को लेकर जहां कांग्रेस प्रदेश उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने स्वास्थ्य निदेशालय में धरना दिया, तो वैक्सीन की दूसरी डोज का इंतज़ार कर रहे प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह का कहना है कि यही हाल रहा... तो वैक्सीनेशन सालों साल चलेगा. स्वास्थ्य विभाग के पास 18 से 44 साल के लोगों के लिए सिर्फ 2 दिन की वैक्सीन बची है. और करीब पौने 2 लाख वैक्सीन की अगली खेप जून के पहले हफ्ते राज्य को मिलेगी. और इस हाल में आपके पास इंतज़ार के अलावा कोई दूसरा विकल्प नहीं है.
Published by:Sumit Pandey
First published: