होम /न्यूज /उत्तराखंड /Facebook की मदद से ठीक होंगी देहरादून की सड़कें, जिलाधिकारी ने शुरू किया अभियान

Facebook की मदद से ठीक होंगी देहरादून की सड़कें, जिलाधिकारी ने शुरू किया अभियान

देहरादून की सड़कों को गड्ढा मुक्त करने के लिए अब यहां की जिलाधिकारी सोनिका ने मुहिम शुरू की है. फेसबुक पर जिलाधिकारी 'पै ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

हिना आज़मी

देहरादून. उत्तराखंड की राजधानी देहरादून कहने को तो स्मार्ट सिटी के तौर पर पहचान बनाने जा रही है, लेकिन यहां की खस्ताहाल सड़कें इसकी छवि पर पलीता लगा रही हैं. दून की सड़कों को गड्ढा मुक्त करने के लिए अब यहां की जिलाधिकारी (डीएम) सोनिका ने मुहिम शुरू की है. फेसबुक पर जिलाधिकारी ‘पैचलेस रोड्स ऑफ देहरादून’ पेज के साथ अभियान चला रही हैं. अगर किसी नागरिक के घर के आस-पास की सड़कों पर गड्ढे हैं, तो वो जिला प्रशासन को इस समस्या से अवगत करा सकते हैं.

देहरादून निवासी अजीत सिंह का कहना है कि जिला प्रशासन की तरफ से चलाया गया यह अभियान सराहनीय है. इस पर धरातल पर काम करने की जरूरत है क्योंकि शहर में जगह-जगह गड्ढों से हर कोई परेशान है. बरसात के दौरान गड्ढों में पानी भर जाता है जो सड़क दुर्घटनाओं को न्योता देता है. इसकी वजह से अब तक दर्जनों हादसे हो चुके हैं. एक और निवासी शोभनाथ का कहना है कि फेसबुक पर मुहिम चलाने से फायदा नहीं है. फायदा तब होगा जब सड़कों पर काम किया जाए. उन्होंने कहा कि अभियान तो कई चलाए जाते हैं, लेकिन फिर भी आमजन की परेशानी दूर नहीं हो पाती है. जगह-जगह सड़कों पर गड्ढे और खराब पैचवर्क वाहन चालकों के लिए मुश्किलें खड़ी कर देते हैं.

जिलाधिकारी सोनिका ने इस बारे में जानकारी दी कि इस प्लेटफॉर्म के माध्यम से कोई भी नागरिक गड्ढों वाली सड़कों से जुड़ी जानकारी जिला प्रशासन को दे सकता है. इस पर कार्रवाई को आगे बढ़ाते हुए सड़क को दुरुस्त किया जाएगा.

जिला प्रशासन की फेसबुक के माध्यम से चलाई जा रही इस मुहिम से लोग काफी उम्मीदें लगाए बैठे हैं. सोशल मीडिया पर इसकी सराहना की जा रही है. तो वहीं, कई लोग धरातल पर काम मांग रहे हैं. फेसबुक पेज के अलावा पोर्टल (smartcitydehradun.uk.gov.in) और मेल आईडी (dm-deh-ua@nic.in)के माध्यम से भी सड़कों से जुड़ी अपनी परेशानी से प्रशासन को अवगत कराया जा सकता है.

Tags: Dehradun news, Facebook, Road broken, Uttarakhand news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें