लाइव टीवी

सीबीआई केस ने बनाया हरीश रावत को ‘गरीब’… कहा धन के अभाव से जूझ रहा हूं

Kishore Kumar Rawat | News18 Uttarakhand
Updated: October 29, 2019, 5:45 PM IST
सीबीआई केस ने बनाया हरीश रावत को ‘गरीब’… कहा धन के अभाव से जूझ रहा हूं
CBI केस के संदर्भ में हरीश रावत ने ट्वीट किया है कि वह पैसे की कमी को लेकर थोड़े परेशान हैं.

विधानसभा चुनाव (Assembly Election) के समय दाखिल एफिडेविट के अनुसार हरीश रावत (Harish Rawat) और उनकी पत्नी की संपत्ति करीब 5 करोड़ रुपये से कुछ ज़्यादा है.

  • Share this:
देहरादून. तो क्या कांग्रेस महासचिव और पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत (Ex CM Harish Rawat) को पैसे का टोटा पड़ गया है. सोशल मीडिया (Social Media) में रावत ने जो मैसेज भेजे हैं उसे पढ़कर तो यही लगता है. हरीश रावत पर सीबीआई (CBI) ने 2016 में विधायक ख़रीद-फ़रोख़्त स्टिंग (Horse Trading Sting) के आधार पर एफ़आईआर दर्ज कर ली है. उनके साथ उनकी सरकार में और अब बीजेपी सरकार में भी कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत (Harish Rawat), स्टिंग करने वाले पूर्व टीवी पत्रकार उमेश कुमार शर्मा (Umesh Kumar Sharma) पर भी केस दर्ज किया गया है. लेकिन बाकी दोनों जहां इस मामले पर ख़ामोश हैं, हरीश रावत ने ट्विटर (Twitter) पर लिखा है कि वह पैसे को लेकर परेशान हैं.

सियासी करियर से जुड़ी कानूनी जंग

लंबी कानूनी लड़ाई और सियासी ड्रामे के बाद आखिरकार 2016 के विधायक ख़रीद-फ़रोख़्त स्टिंग केस में सीबीआई ने हरीश रावत, हरक सिंह रावत और उमेश कुमार शर्मा पर एफ़आईआर दर्ज कर दी. हरीश रावत के लिए यह कानूनी जंग उनकी सियासी करियर से भी जुड़ी है क्योंकि कुछ राजनीतिक पर्यवेक्षक मानते हैं कि उनकी उम्र और स्वास्थ्य को देखते हुए शायद वह उनके राजनीतिक जीवन का अंतिम समय हो सकता है.

पिथौरागढ़ उप-चुनाव को लेकर खुद हरीश रावत यह कह चुके हैं कि उनकी उम्र और स्वास्थ्य उन्हें बहुत सक्रिय रहने की अनुमति नहीं देते लेकिन मयूख महर को टिकट मिला तो वह प्रचार करेंगे. लेकिन जब उन्होंने सीबीआई केस की बात की तो उसमें उम्र और स्वास्थ्य नहीं पैसे का हवाला दिया.

congress leaders in nainital, नैनीताल हाईकोर्ट में हरीश रावत केस की सुनवाई के दौरान एकजुटता दिखाने के लिए जुटे कांग्रेस नेता.
नैनीताल हाईकोर्ट में हरीश रावत केस की सुनवाई के दौरान एकजुटता दिखाने के लिए जुटे कांग्रेस नेता.


धन का अभाव

कुछ दिन पहले एक ट्वीट में हरीश रावत ने कहा, “FIR दर्ज होने के बाद मेरे कई सहयोग मुझे लेकर चिंतित हैं. मैं इस चुनौती को भी अपने को सिद्ध करने के अवसर के रूप में देख रहा हूं. थोड़ा धन के अभाव से परेशान हूं, मगर संघर्ष की संकल्पशक्ति पर मेरा भरोसा है. वर्ष 2016 में सरकार की वापसी एक असंभव का कार्य था जो संभव हुआ.”
Loading...

ईमानदारी का सबूत

वरिष्ठ कांग्रेस नेता और हरीश रावत के समर्थक जोत सिंह बिष्ट कहते हैं कि इस बात में उन्हें कोई अचरज नहीं होता. जोत सिंह बिष्ट कहते हैं कि विधानसभा चुनाव के समय दाखिल एफिडेविट के अनुसार हरीश रावत और उनकी पत्नी की संपत्ति करीब 5.60 करोड़ रुपये है.

jot singh bisht, जोत सिंह बिष्ट कहते हैं कि जो नेता 5 बार सांसद रहा हो, केंद्र में मंत्री रहा हो और मुख्यमंत्री रहा हो उसकी इतनी संपत्ति बताती है कि उसने कभी कोई ग़लत काम नहीं किया.
जोत सिंह बिष्ट कहते हैं कि जो नेता 5 बार सांसद रहा हो, केंद्र में मंत्री रहा हो और मुख्यमंत्री रहा हो उसकी इतनी संपत्ति बताती है कि उसने कभी कोई ग़लत काम नहीं किया.


बिष्ट कहते हैं कि जो नेता 5 बार सांसद रहा हो, केंद्र में मंत्री रहा हो और मुख्यमंत्री रहा हो उसकी इतनी संपत्ति बताती है कि उसने कभी कोई ग़लत काम नहीं किया. बिष्ट यह भी कहते हैं कि मुक़दमा लड़ने में पैसा खर्च होता है और हरीश रावत के मैसेज में संदेश भी है कि लोगों को उनके समर्थकों को उनकी मदद के लिए आगे आना चाहिए.

ये भी देखें: 

स्टिंग केस में CBI ने हरीश रावत, हरक सिंह रावत और उमेश शर्मा पर किया केस दर्ज

हरीश रावत स्टिंग केस... हाईकोर्ट ने CBI को दी FIR दर्ज करने की छूट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देहरादून से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 29, 2019, 4:57 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...