लाइव टीवी

SBML के डायरेक्टरों, प्रमोटरों पर 130 करोड़ के बैंक फ्रॉड में CBI केस, FIR में मोहन काला का भी नाम

Sunil Navprabhat | News18 Uttarakhand
Updated: November 12, 2019, 3:14 PM IST
SBML के डायरेक्टरों, प्रमोटरों पर 130 करोड़ के बैंक फ्रॉड में CBI केस, FIR में मोहन काला का भी नाम
पौड़ी के मूल निवासी उद्योगपति मोहन काला श्रीनगर से निर्दलीय चुनाव भी लड़ चुके हैं.

मोहन काला Mohan kala ने कहा कि मेरा कंपनी से कोई लेना देना नहीं. मैं कंपनी में प्रमोटर डायरेक्टर (Promoter Director) था और बहुत साल पहले मैने कंपनी से रिज़ाइन कर दिया था.

  • Share this:
देहरादून. उत्तराखंड (Uttarakhand) के रहने वाले उद्योगपति मोहन काला (Industrialist Mohan Kala) के खिलाफ करीब सवा सौ करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के मामले में सीबीआई ने केस (CBI Casse) दर्ज कर लिया है. यूनियन बैंक ऑफ इंडिया की शिकायत पर सीबीआई ने मुंबई थाने में रिपोर्ट दर्ज की है. यूनियन बैंक ऑफ इंडिया (Union Bank of India) की मुंबई शाखा की ओर से शेरोन बायो मेडिसिन्स लिमिटेड कंपनी (Sharon Bia-Medicines Limited Company) को संचालित करने वाले मोहन काला (Mohan Kala) और अन्य के ख़िलाफ़ धोखाधड़ी कर बैंक को 130 करोड़ रुपये से ज़्यादा का नुक़सान पहुंचाने का आरोप है.

करीब 130 करोड़ का घाटा 

बता दें कि सीबीआई को की शिकायत में यूनियन बैंक ऑफ़ इंडिया ने मोहन काला समेत शेरोन बायो मेडिसिन्स लिमिटेड कंपनी (SBML) के डायरेक्टर्स, गारंटर्स, प्रमोटर्स के ख़िलाफ़ फ़र्ज़ी दस्तावेज़ लगाकर 112.93 करोड़ रुपय के लोन का गलत इस्तेमाल करने की शिकायत की है.

यूनियन बैंक ऑफ़ इंडिया ने 14 जून, 2019 को सीबीआई के बैंकिंग सिक्योरिटी और फ़्रॉड सेल को इस संबंध में शिकायत दर्ज करवाई है. शिकायत के अनुसार इससे बैंक को पिछले साल 30 सितंबर तक की करीब 129.96 करोड़ रुपये और ब्याज का घाटा हो चुका है.

निर्दलीय चुनाव लड़ चुके हैं काला 

ख़ास बात यह है कि मोहन काला 2017 में श्रीनगर विधानसभा से निर्देलीय चुनाव लड़ चुके हैं. लोकसभा चुनाव के दौरान वे कांग्रेस में शामिल हुए थे लेकिन पूर्व विधायक गणेश गोदियाल के विरोध के चलते उन्हें पार्टी से बाहर कर दिया गया था.

न्यूज 18 से फोन पर बातचीत में मोहन काला ने कहा कि मेरा कंपनी से कोई लेना देना नहीं. मैं कंपनी में प्रमोटर डायरेक्टर था और बहुत साल पहले मैने कंपनी से रिज़ाइन कर दिया था. उन्होंने इसे राजनीति से प्रेरित बताते हुए कहा कि मैने कोई गलत काम नहीं किया. आदमी जब इलेक्शन लड़ता है तो ये चीजें होती रहती हैं.
Loading...

ये भी देखें: 

उत्‍तराखंड में भू-माफिया लगातार कर रहे लोगों की जमीन पर कब्‍जा, पुलिस नहीं लगा पा रही लगाम

धोखाधड़ी के शिकार व्‍यापारी ने पुलिस थाने में की आत्‍मदाह की कोशिश

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देहरादून से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 12, 2019, 3:06 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...