राज्य स्थापना दिवस पर गैरसैंण में होगा 20 साल पूरे होने का समारोह... कई सौगात दे सकती है सरकार

इसी  साल गैरसैंण को ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाने की घोषणा कर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने सबको चौका दिया था. (फ़ाइल फ़ोटो)
इसी साल गैरसैंण को ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाने की घोषणा कर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने सबको चौका दिया था. (फ़ाइल फ़ोटो)

बीजेपी गैरसैंण के विकास को 2022 में बड़ी उपलब्धि बताकर सियासत को साधना चाहती है, तो विपक्ष यह कहकर सरकार को घेरने में लगा है, कि सिर्फ खास मौकों पर गैरसैंण जाने से क्या हासिल होगा.

  • Share this:
देहरादून. राज्य स्थापना दिवस को खास बनाने सीएम त्रिवेंद्र रावत 9 नवंबर को गैरसैंण जाएंगे जहां सरकार कुछ नई सौगात गैरसैंण और प्रदेश जनता को देगी. वहीं विपक्ष का कहना है कि सिर्फ खास मौकों पर गैरसैंण जाने से क्या होगा? गैरसैंण को ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाने के बाद सरकार इसे ऐतिहासिक उपलब्धि बता रही है. और हर खास मौके पर मुख्यमंत्री गैरसैंण जा रहे हैं, फिर चाहे वो 15 अगस्त हो या 9 नवंबर. लेकिन यही बात विपक्ष के समझ नहीं आ रही.

कई योजनाओं के शिलान्यास के संकेत 

इसी साल मार्च में गैरसैंण को ग्रीष्मकालीन राजधानी को घोषित करके मुख्यमंत्री ने सबको चौंका दिया था, और अब राज्य के 20 साल पूरे होने समारोह गैरसैंण में होगा, जिसमें भविष्य की योजनाओं का शिलान्यास मुख्यमंत्री कर सकते हैं.



बीजेपी गैरसैंण के विकास को 2022 में बड़ी उपलब्धि बताकर सियासत को साधना चाहती है, तो विपक्ष यह कहकर सरकार को घेरने में लगा है, कि सिर्फ खास मौकों पर गैरसैंण जाने से क्या हासिल होगा.
लोन बांटने में  भेदभाव का आरोप

9 नवंबर को गैरसैंण से उत्तराखंड का सहकारिता विभाग यानि कॉपरेटिव डिपार्टमेंट नई स्कीम शुरू करेगा. इसमें शून्य प्रतिशत ब्याज पर किसानों को 3 लाख रुपये तक का लोन मिलेगा. इससे पहले विभाग 2 प्रतिशत और जीरो प्रतिशत ब्याज पर लोन एक लाख रुपये के लोन की स्कीम चला चुका है.

हालांकि सहकारिता विभाग के लोन बांटने पर कांग्रेस को गड़बड़ दिख रही है. कांग्रेस ने सहकारिता मंत्री धन सिंह रावत पर बड़ा आरोप लगाया है. श्रीनगर सीट से कांग्रेस के विधायक रहे गणेश गोदियाल का कहना है कि लोन बांटने में भेदभाव किया जा रहा है और यह काम खुद सहकारिता मंत्री कर रहे हैं.

सहकारिता मंत्री ने इस तरह के आरोपों को सिरे से खारिज किया है. धन सिंह रावत का कहना है कि जो लोन मिल रहा है, किसानों को मिल रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज