Home /News /uttarakhand /

center asks report from pushkar dhami govt on deaths in char dham yatra now state doing better arrangements

चार धाम यात्रा: 20 मौतों पर गंभीर केंद्र ने मांगी रिपोर्ट, अब बेहतर हेल्थ सेवाओं में ऐसे जुटी धामी सरकार

Char Dham Deaths : खासकर गंगोत्री और यमुनोत्री में तीर्थयात्रियों की मौतों की खबरें रहीं. बताया गया कि ज़्यादातर मौतें उनकी हुईं, जो दिल की बीमारियों से ग्रस्त थे. अब राज्य का स्वास्थ्य विभाग तीर्थ यात्रा के रूट और पड़ावों पर स्वास्थ्य सुविधाएं बेहतर करने की कोशिशें कर रहा है, पर कैसे?

अधिक पढ़ें ...

देहरादून. उत्तराखंड में 3 मई से शुरू हुई चार धाम यात्रा में एक हफ्ते में कम से कम 20 यात्रियों की मौत होने के मामले पर केंद्र सरकार ने चिंता ज़ाहिर की है. केंद्र ने उत्तराखंड सरकार से इस बारे में रिपोर्ट तलब की है. वहीं, मौतों के इस आंकड़े के बाद राज्य का स्वास्थ्य विभाग अलर्ट मोड पर आया है और अब कई इंतज़ाम किए जा रहे हैं. राज्य ने यात्रा रूट पर एडवांस सपोर्ट सिस्टम वाली एंबुलेंस तैनात करने के साथ ही बीमारियों से ग्रस्त यात्रियों के लिए एक एडवाइज़री और हेल्पलाइन जारी की है.

चार धाम यात्रियों की मौतों के आंकड़े के मद्देनज़र केंद्र के निर्देश पर राज्य का स्वास्थ्य विभाग रिपोर्ट तैयार करने में जुटा है. वहीं, अब राज्य सरकार कई एहतियाती कदम उठा रही है. बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री चारों धाम चूंकि 10,000 फीट से ज़्यादा ऊंचाई पर स्थित हैं इसलिए यहां आने वाले यात्रियों के​ लिए एडवाइज़री जारी की गई है. इसके मुताबिक डायबिटीज़, हाईपरटेंशन, बीपी और दिल के अन्य रोगों से ग्रस्त लोगों को मेडिकल सर्टिफिकेट और डॉक्टर का संपर्क साथ रखने को कहा गया है.

सबका चेकअप न कर पाने की मजबूरी जता चुके स्वास्थ्य विभाग ने सेहत संबंधी सहायता या जानकारी के लिए हेल्पलाइन नंबर 104 जारी किया है. न्यूज़18 संवाददाता शैलेंद्र सिंह नेगी ने रिपोर्ट किया कि पूरे यात्रा रूट पर 200 डॉक्टरों की तैनाती के दावे के बावजूद यात्रियों की मौतें इंंतजामों पर सवाल उठा रही हैं. स्वास्थ्य मंत्री धनसिंह रावत ने बताया फाटा, गुप्तकाशी, गंगोत्री और यमुनोत्री रोड में कुल मिलाकर आठ मॉडर्न एंबुलेंस तैनात की जा रही हैं. ये एंबुलेंस एडवांस सपोर्ट सिस्टम और डॉक्टरों व स्टाफ से लैस होंगी.

चौतरफा हरकत में आया स्वास्थ्य विभाग
ऋषिकेश से आशीष डोभाल की रिपोर्ट है कि ऋषिकेश से या होकर यात्रा पर जा रहे यात्रियों को राजकीय हॉस्पिटल की टीम चेकअप और सलाह के साथ हिदायतें दे रही हैं. चार धाम खुलने के साथ ही मौसम बदलने से यात्रियों की सेहत पर असर दिखा है. वहीं, चमोली से नितिन सेमवाल ने बताया कि बद्रीनाथ धाम की यात्रा के लिए स्वास्थ्य विभाग ने डॉक्टरों की 19 टीमें बनाई हैं, जिनमें 4 से 5 डॉक्टर यात्रा रूटों पर तैनात किए गए हैं.

Tags: Char Dham Yatra, Health Department, Uttarakhand Tourism

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर