लाइव टीवी

चार धाम श्राइन बोर्ड... क्या सारा बवाल पैसे के लिए है?

Deepankar Bhatt | News18 Uttarakhand
Updated: December 3, 2019, 8:33 PM IST
चार धाम श्राइन बोर्ड... क्या सारा बवाल पैसे के लिए है?
एक अनुमान के मुताबिक 2019-20 में बद्री-केदार समिति को 10 करोड़ रुपये से ज़्यादा की आय हुई है.

अगले 10 साल में यानी साल 2030 तक बद्री-केदार मंदिर (Badri-kedar temples) की आय अनुमानित 25 करोड़ तक पहुंच सकती है.

  • Share this:
देहरादून. सरकार चार धाम श्राइन बोर्ड (Char Dham Srine Board) बनाने फ़ैसला कर चुकी है और कल से होने वाले सत्र में इस पर विधेयक भी लाया जाना है. साफ़ है कि त्रिवेंद्र रावत सरकार (Trivendra Rawat Government)तय कर चुकी है कि तीर्थ पुरोहितों के विरोध (Tirth Purohit Protest) से उसे कोई फ़र्क नहीं पड़ने वाला. मुख्यमंत्री कह चुके हैं कि साल 2030 तक एक करोड़ श्रद्धालुओं के चारधाम आने का अनुमान है. तीर्थपुरोहित परंपराओं को नष्ट करने की बात कर रहे हैं तो श्राइन बोर्ड का कड़ा विरोध कर रहे हैं लेकिन एक आरटीआई से यह सवाल भी खड़ा हो गया है कि क्या सारा खेल सिर्फ़ पैसे का है?

आय करोड़ों में 

एक आरटीआई से खुलासा हुआ है कि सिर्फ़ बदरीनाथ, केदारनाथ मंदिरों में पूजा और विशेष पूजा से होने वाली आय करोड़ों में है. चार धाम श्राइन बोर्ड में तो इन दोनों और गंगोत्री-यमुनोत्री समेत 51 मंदिर आने हैं. उधर तीर्थ पुरोहित सरकार को चेतावनी दे चुके हैं कि वह मंदिरों के दान पात्र पर नज़र न डाले क्योंकि यह उनका हक है.

साल दर साल इतनी कमाई 

आरटीआई में मिली जानकारी के अनुसार सिर्फ बद्रीनाथ धाम में विशेष पूजा से साल 1999-2000 में 58 लाख, 66 हज़ार रुपये आए थे.

इसके दास साल बाद 2009-10 में विशेष पूजा से 3 करोड़, 66 लाख रुपये की कमाई हुई.

आपदा के बावजूद साल 2013-14 में विशेष पूजा से 2 करोड़, 81 लाख रुपये की कमाई हुई थी.मंदिर समिति के एक अनुमान के मुताबिक 2019-20 में बद्री-केदार समिति को 10 करोड़ रुपये से ज़्यादा की आय हुई है.

अगर यह सिलसिला ऐसे ही जारी रहा तो अगले 10 साल में यानी साल 2030 तक बद्री-केदार मंदिर की आय अनुमानित 25 करोड़ तक पहुंच सकती है.

ये भी देखें: 

चार धाम श्राइन बोर्ड के विरोध में उतरे मंदिरों के हक-हकूकधारी, परंपराएं ख़त्म करने का आरोप

वैष्णो देवी मंदिर की तर्ज पर बनेगा चारधाम श्राइन बोर्ड, कैबिनेट ने दी मंज़ूरी... 51 मंदिर आएंगे दायरे में

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देहरादून से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 3, 2019, 8:29 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर