Home /News /uttarakhand /

Char Dham Yatra : 35 दिनों में पहुंचे 2 लाख से ज़्यादा श्रद्धालु, मलारी हाईवे अब भी बंद, हेमकुंड साहिब में बर्फबारी

Char Dham Yatra : 35 दिनों में पहुंचे 2 लाख से ज़्यादा श्रद्धालु, मलारी हाईवे अब भी बंद, हेमकुंड साहिब में बर्फबारी

केदारनाथ में गुरुवार को 10 हज़ार से ज़्यादा तीर्थ यात्री पहुंचे.

केदारनाथ में गुरुवार को 10 हज़ार से ज़्यादा तीर्थ यात्री पहुंचे.

Char Dham Yatra Updates : उत्तराखंड में तीर्थ यात्रियों में उत्साह देखा जा रहा है. यमुनोत्री में तो अच्छी खासी संख्या में श्रद्धालु उमड़े. चार धाम यात्रा शुरू होने के बाद से अब तक सबसे ज़्यादा दर्शनार्थी केदारनाथ धाम पहुंचे. जानिए पूरा ब्योरा.

अधिक पढ़ें ...

    देहरादून. बद्रीनाथ धाम को छोड़कर चार धाम यात्रा आगामी 6 नवंबर को थम जाएगी इसलिए उत्तराखंड के आपदाग्रस्त होने के बावजूद यात्रा में श्रद्धालुओं की आवाजाही बनी हुई है. सबसे ज़्यादा श्रद्धालु केदारनाथ पहुंच रहे हैं. गुरुवार को भी यहां 10 हज़ार से ज़्यादा तीर्थयात्री पहुंचे. इधर, बद्रीनाथ जाने के कुछ अहम रास्ते अब भी बंद होने के चलते श्रद्धालु फंसे हुए हैं या कम संख्या में पहुंच पा रहे हैं. यमुनोत्री के लिए श्रद्धालुओं की खासी भीड़ उमड़ती देखी गई है. वहीं, जोशीमठ और सिखों के पवित्र तीर्थ हेमकुंड साहिब में बर्फबारी की खबरें हैं.

    चार धाम देवस्थानम मैनेजमेंट बोर्ड के अनुसार बद्रीनाथ के कपाट 20 नवंबर को बंद होंगे जबकि बाकी तीनों धामों केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री यात्रा के लिए कपाट 6 नवंबर को बंद हो जाएंगे. 18 सितंबर से चालू हुई चार धाम यात्रा में 35 दिनों के दौरान श्रद्धालुओं का आंकड़ा 2.12 लाख से ज़्यादा का रहा. बीते रविवार से मंगलवार को राज्य में भारी बारिश और भूस्खलन के चलते कई श्रद्धालुओं के रास्तों और पड़ावों पर फंसे रहने की खबरें भी बनी रहीं.

    uttarakhand news, uttarakhand weather, char dham yatra weather, char dham yatra route, char dham yatra roads, उत्तराखंड ताजा समाचार, चार धाम यात्रा रूट, चार धाम यात्रा रोड

    चार धाम यात्रा अपडेट के संबंध में एएनआई का ट्वीट.

    किस धाम में कितने श्रद्धालु पहुंचे?
    केदारनाथ        124699
    बद्रीनाथ          56934
    गंगोत्री           18860
    यमुनोत्री          12442
    कुल –          212933

    बोर्ड का कहना है कि चार धाम यात्रा को लेकर उत्साह बना हुआ है. आपदा से जूझने के बाद भी यहां श्रद्धालुओं का पहुंचना बरकरार है. गुरुवार को केदारनाथ धाम में 10750, बद्रीनाथ में 1785, गंगोत्री में 1150 और यमुनोत्री धाम में 2631 तीर्थयात्रियों ने दर्शन किए.

    मलारी हाईवे बंद, सीमांत गांवों में सेवाएं ठप
    उत्तराखंड के डीजीपी ने गुरुवार को बद्रीनाथ का रूट हल्के वाहनों के लिए खुल जाने का दावा किया था. इधर खबरों में बताया जा रहा है कि मलारी हाईवे लगातार पांचवे दिन शुक्रवार को भी बंद है. इस हाईवे पर दो जगह पर चट्टानें टूटकर गिरी हैं, जिनका मलबा अब तक हटाया नहीं जा सका है. इससे सीमांत गांवों के लोगों के साथ ही सेना के आवागमन पर भी बुरा असर पड़ रहा है. तिब्बत सीमा से सटे गांवों में तो चार दिनों से बिजली और संचार सेवाएं बंद पड़ी हैं.

    uttarakhand news, uttarakhand weather, char dham yatra weather, char dham yatra route, char dham yatra roads, उत्तराखंड ताजा समाचार, चार धाम यात्रा रूट, चार धाम यात्रा रोड

    हेमकुंड साहिब और जोशीमठ में भारी बर्फबारी हुई.

    जोशीमठ में ज़बरदस्त बर्फबारी
    उत्तराखंड में अधिकांश जगहों पर मौसम साफ होने की खबरें हैं लेकिन जोशीमठ और हेमकुंड साहिब में शुक्रवार सुबह भारी बर्फबारी हुई. बताया जा रहा है कि यहां दो फीट मोटी बर्फ जम गई है, इतनी बर्फ गिरी. उधर, अधिकांश इलाकों में आज सुबह हल्का कोहरा देखा गया लेकिन उसके बाद अच्छी धूप निकल आई.

    Tags: Badrinath Yatra, Char Dham Yatra, Hemkund Sahib Yatra, Snowfall in Uttarakhand, Uttarakhand news, Weather Update

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर