Home /News /uttarakhand /

Char Dham Yatra Resume : केदारनाथ, गंगोत्री, यमुनोत्री के बाद बद्रीनाथ रूट भी खुला, अभी छोटे वाहनों के लिए

Char Dham Yatra Resume : केदारनाथ, गंगोत्री, यमुनोत्री के बाद बद्रीनाथ रूट भी खुला, अभी छोटे वाहनों के लिए

तीन धामों के बाद अब बद्रीनाथ धाम की यात्रा खुलने की शुरुआत हो रही है.

तीन धामों के बाद अब बद्रीनाथ धाम की यात्रा खुलने की शुरुआत हो रही है.

Uttarakhand Rains Updates : चार धाम यात्रा के बहाल होने और भारी बारिश से पैदा हुई उत्तराखंड आपदा के बारे में लगातार अपडेट्स के लिए न्यूज़18 के साथ जुड़े रहिए.

    देहरादून. चार धाम यात्रा के दोबारा शुरू होने को लेकर ताज़ा अपडेट यह है कि बद्रीनाथ यात्रा भी अब सिलसिलेवार शुरू हो रही है. केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री की यात्रा पहले ही सुचारू हो चुकी थी, लेकिन बद्रीनाथ जाने के लिए रास्ते ब्लॉक थे. अब राज्य के डीजीपी अशोक कुमार ने बताया है कि छोटे और हल्के वाहनों के लिए बद्रीनाथ का रूट खुल गया है. कुमार ने यह भी बताया कि नैनीताल से मुक्तेश्वर और आपदाग्रस्त रामगढ़ का सड़क रास्ता भी खुल गया है. समाचार एजेंसी एएनआई ने डीजीपी कुमार के बयान के हवाले से ट्वीट करते हुए यह जानकारी दी.

    चार धाम यात्रा के शुरू होने का आधिकारिक ऐलान मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी भी कर चुके हैं और उत्तराखंड पुलिस भी. सिर्फ बद्रीनाथ के लिए रास्ते खुलने का इंतज़ार जारी है क्योंकि उत्तराखंड में रविवार से मंगलवार तक हुई भारी बारिश और भूस्खलन के चलते मुख्य हाईवे ब्लॉक बताया जा रहा था. यही नहीं, राज्य में अन्य कई रास्ते ठप थे, जो अब मौसम साफ होने के साथ ही शुरू हो रहे हैं. इस बीच उत्तराखंड पुलिस लगातार यात्रियों के लिए रूट अपडेट जारी कर रही है.

    uttarakhand news, char dham yatra open, char dham yatra roads, char dham yatra update, उत्तराखंड ताजा समाचार, चार धाम यात्रा रूट, चार धाम यात्रा रोड

    उत्तराखंड डीजीपी के चारधाम यात्रा से जुड़े बयान को एएनआई ने ट्वीट किया.

    ये है रूट अपडेट
    1. हल्द्वानी से अल्मोड़ा आप भवाली होकर रामगढ़ धनाचूली शहरफाटक से पहुंच सकते हैं.
    2. अल्मोड़ा से हल्द्वानी के लिए रानीखेत भतरौजखान से होकर रामनगर से पहुंचा जा सकता है.
    3. रानीखेत से बागेश्वर के लिए सोमेश्वर कौसानी से जाया जा सकता है.
    4. अल्मोड़ा से बागेश्वर के लिए ताकुला से वाया सिरकोट जा सकते हैं.
    5. अल्मोड़ा से पिथौरागढ़, रानीखेत से भुजान और अल्मोड़ा से क्वारब खैरना रूट अब भी बंद है.

    Tags: Badrinath Yatra, Char Dham Yatra, Uttarakhand landslide, Uttarakhand news

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर