Home /News /uttarakhand /

char dham yatra on know numbers of devotees reach to kedarnath badrinath gangotri yamnotri deaths data too

Char Dham Yatra: यात्रियों का आंकड़ा 10 लाख के करीब, केदारनाथ-बद्रीनाथ में भीड़ सबसे ज्यादा, मौतें भी बढ़ीं

25 मई सुबह मौसम खुलने के बाद केदारनाथ धाम और बद्रीनाथ मार्ग पर ऐसे नज़ारे दिखे.

25 मई सुबह मौसम खुलने के बाद केदारनाथ धाम और बद्रीनाथ मार्ग पर ऐसे नज़ारे दिखे.

उत्तराखंड में मौसम आज 25 मई को साफ हो गया है. चारों धामों में चटख धूप खिलने की खबरें हैं और यात्रा बहाल हो गई है. हज़ारों श्रद्धालु जो यात्रा मार्गों या पड़ावों में फंसे हुए थे, उन्हें धाम रवाना किया जा रहा है. इस बीच चारों धामों में आस्था के जनसैलाब से जुड़े आंकड़े ध्यान खींच रहे हैं.

अधिक पढ़ें ...

देहरादून. चार धाम में पहुंचने वाले श्रद्धालुओं की संख्या 10 लाख के बहुत करीब पहुंच चुकी है. केदारनाथ और बद्रीनाथ दोनों ही धामों में यात्रियों का आंकड़ा 3 लाख के पार हो चुका है. पिछले चार दिनों से मौसम की मार अगर यात्रा पर न पड़ी होती तो यकीनन यह नंबर और ज़्यादा होता. इधर, चार धाम यात्रा में मृतकों का आधिकारिक आंकड़ा 69 तक पहुंच गया है. अनेक यात्री हृदय के या अन्य गंभीर रोगों के कारण दम तोड़ रहे हैं तो कुछ श्रद्धालु दुर्घटनाओं के भी शिकार हो रहे हैं.

आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक चार धाम में अब तक मारे गए 69 लोगों में 21 महिलाएं और 48 पुरुष शामिल हैं. धाम के हिसाब से देखें तो केदारनाथ में सबसे ज़्यादा 35 यात्रियों की मौत हुई है. इसके बाद यमुनोत्री में 19, बद्रीनाथ में 11 और गंगोत्री में 4 लोग काल के गाल में समाए. इधर पहाड़ों में लगातार हुई बारिश से चट्टानों व पत्थरों के गिरने की घटनाएं भी हो रही हैं. बद्रीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग पर जोगी धारा के पास मंगलवार को अचानक एक पत्थर गिरने से हेमकुंड की यात्रा पर आया सिख श्रद्धालु घायल हो गया.

— केदारनाथ यात्रा में मंगलवार को चार तीर्थयात्रियों की मौत की खबर आई.
— हाई अल्टीट्यूड क्षेत्र में हृदयाघात से 4 तीर्थयात्रियों की मौत हुई.
— महाराष्ट्र के औरंगाबाद निवासी 65 वर्षीय राय सिन्धे, यूपी के प्रतापनगर निवासी 56 वर्षीय रविन्द्र नाथ, मध्यप्रदेश निवासी 56 वर्षीय मानकुंवर नागर और राजस्थान के नाथवाड़ा निवासी 56 वर्षीय लता कमावत की हार्टअटैक से मौत हुई.

चारों धामों में पहुंचे 9 लाख 93 हजार श्रद्धालु
— गंगोत्री में 1 लाख 90 हजार
— यमुनोत्री में 1 लाख 39 हजार
— बद्रीनाथ में 3 लाख 15 हजार
— केदारनाथ में 3 लाख 40 हजार
— हेमकुंड साहिब में 7 हजार श्रद्धालु दर्शन के लिए पहुंच चुके हैं.

गौरतलब है कि भारी बरिश के चलते बद्रीनाथ, केदारनाथ और यमुनोत्री धामों के मार्ग जोखिम भरे हो गए. बद्रीनाथ के साथ ही यमुनोत्री में भी पैदल मार्ग पर पहाड़ी से पत्थर आने का खतरा बना हुआ है. प्रशासन यात्रियों से अपील कर रहा है कि मौसम सामान्य होने तक यात्री धैर्य रखें. वहीं, स्वास्थ्य विभाग बारिश व बर्फबारी के चलते गिरे पारे के मद्देनज़र गंभीर रोगियों को भी सतर्कता बरतने की अपील कर रहा है.

Tags: Char Dham Yatra, Kedarnath yatra

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर