Home /News /uttarakhand /

char dham yatra update know death numbers and how many devotees reach kedarnath badrinath gangotri yamunotri

Char Dham Yatra: जानिए बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री, यमुनोत्री में कितने श्रद्धालु पहुंचे, अब तक मौतें 53

चार धाम यात्रा में मौसम और रास्तों की रुकावटों के बावजूद भारी भीड़ उमड़ रही है.

चार धाम यात्रा में मौसम और रास्तों की रुकावटों के बावजूद भारी भीड़ उमड़ रही है.

आज 21 से 24 मई तक फिर मौसम खराब होने की खबरें हैं इसलिए नज़रें आने वाले हफ्ते के आंकड़ों पर बनी हुई हैं. इस हफ्ते के आंकड़े बताते हैं कि हर दिन चार धाम में 50,000 हज़ार से ज़्यादा श्रद्धालु पहुंचे सिवाय 17 मई के क्योंकि 16 मई दोपहर बाद से बारिश और आंधी का दौर शुरू हुआ था.

अधिक पढ़ें ...

देहरादून. चार धाम यात्रा अपने चरम पर पहुंचने के दौर में है और 20 मई को पिछले 10 दिनों में पहली बार ऐसा हुआ कि 55,000 से ज़्यादा यात्री धामों में पहुंचे. 3 मई से अब तक चार धाम पहुंचने वाले यात्रियों का कुल आंकड़ा 8 लाख से कुछ ही कम रह गया है. दूसरी तरफ, यात्रा में शुक्रवार 20 मई को केदारनाथ में एक जबकि बद्रीनाथ में तीन तीर्थयात्रियों की मौत हुई. अब आधिकारिक आंकड़ों के हिसाब से चार धाम यात्रा के दौरान मृतकों की संख्या 53 हो गई है.

चारधाम यात्रा में अब तक 14 महिलाओं और 35 पुरुषों की मृत्यु हो चुकी है. चार धाम प्रशासन का दावा है कि ज़्यादातर मौतें उन लोगों की हुई हैं, जो पहले ही सवास्थ्य संबंधी समस्याओं से जूझ रहे थे और ​हृदय के या अन्य गंभीर रोगों से ग्रस्त थे. सरकारी डेटा के अुनसार अब तक गंगोत्री धाम में 4, यमुनोत्री धाम में 16, बद्रीनाथ में 9 और केदारनाथ में 24 यात्रियों की मौत हुई. बद्रीनाथ केदारनाथ समिति, स्वास्थ्य विभाग और उत्तराखंड सरकार की तरफ से लगातार हिदायत दी जा रही है कि हृदय व गंभीर रोगों से ग्रस्त लोग यात्रा फिलहाल टाल दें.

केदारनाथ में यात्रियों का आंकड़ा 3 लाख के करीब
चार धाम यात्रा शुरू होने के ढाई हफ्तों बाद यानी 20 मई तक के आधिकारिक डेटा के अनुसार कुल 7,95,586 यात्री पहुंच चुके हैं. इनमें से सबसे ज़्यादा यात्री केदारनाम धाम पहुंचे हैं तो सबसे कम यमुनोत्री.

केदारनाथ — 2,91,358 यात्री पहुंचे
बद्रीनाथ — 2,37,619 यात्री पहुंचे
गंगोत्री — 1,49,856 यात्री पहुंचे
यमुनोत्री — 1,16,753 यात्री पहुंचे

असल में, पिछले करीब तीन दिनों से यमुनोत्री में नेशनल हाईवे 94 पर रानाचट्टी और जानकीचट्टी के बीच एक सेफ्टी वॉल गिर जाने यानी भूधंसाव की घटना हो जाने से बड़ी संख्या में यात्री फंसे रहे. 19 मई के आंकड़ों के हिसाब से केवल 738 यात्री ही यमुनोत्री पहुंच सके थे. इसके बाद मार्ग कुछ समय के लिए आंशिक तौर पर खुलने पर फंसी हुई भीड़ ने यमुनोत्री की तरफ रुख किया. 20 मई की शाम से रास्ता फिर बाधित है.

Tags: Char Dham Yatra, Gangotri-Yamunotri Dham, Kedarnath Dham

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर