Uttarakhand News: एक्श्न के मूड में सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत, एक आदेश से अफसरों में हड़कंप

सीएम त्रिवेंद्र रावत के एक आदेश से अफसरों में हड़कंप मचा हुआ है.

सीएम त्रिवेंद्र रावत के एक आदेश से अफसरों में हड़कंप मचा हुआ है.

Uttarakhand News: उत्तराखंड में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने विधानसभावार विकास कार्यों की समीक्षा करने की बात कही है. सीएम के एक्शन को देखते हुए अफसरों में हड़कंप मचा हुआ है.

  • Share this:
देहरादून. सीएम त्रिवेंद्र रावत के एक आदेश से उत्तराखंड शासन के अफसरों में हड़कंप मचा हुआ है. मुख्यमंत्री रावत 15 फरवरी से जिलावार सभी विधानसभाओं की विकास योजनाओं की समीक्षा करने जा रहे हैं. समीक्षा का एजेंडा मुख्यमंत्री की विधानसभाओं को लेकर की गई वो घोषणाएं रहेंगी जो पूरी नहीं

हो पाई हैं. अफसरों में हड़कंप की स्थिति है. माना जा रहा है कि लेटलतीफी पर अफसरों पर गाज भी गिर सकती है. मुख्यमंत्री सचिवालय से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये जिलाधिकारियों से एक-एक घोषणा के बावत जानकारी लेंगे. इस दौरान संबंधित जिलों के विधायक भी मौजूद रहेंगे. सचिव अमित नेगी ने

इसके आदेश भी जारी कर दिए हैं.

- 15 फरवरी से शुरू हो रहे समीक्षा मीटिंग के फर्स्ट फेज में चमोली, हरिद्वार, ऊधमसिंहनगर, देहरादून को छोड़ सभी नौ जिलों की 37 विधानसभाओं की समीक्षा की जाएगी.
- पंद्रह फरवरी को चम्पावत, बागेश्वर, पिथौरागढ़ जिलों की विधानसभाओं की समीक्षा होगी

- 17 फरवरी को अल्मोड़ा और नैनीताल जिले की विधानसभाओं की समीक्षा होगी

- 18 फरवरी को उत्तरकाशी , रूद्रप्रयाग और 19 फरवरी को पौड़ी और टिहरी जिले की विधानसभाओं की समीक्षा की जाएगी.



Youtube Video


माना जा रहा है कि इससे विधायकों की अफसरशाही हावी होने की शिकायतें भी दूर हो जाएंगी. उत्तराखंड में विधायक से लेकर मंत्री तक कई बार अफसरशाही हावी होने की बात कह चुके हैं. विधानसभा के उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह चौहान तो बीते विधानसभा सत्र में अल्मोड़ा के तत्कालीन डीएम को लेकर विशेषाधिकार हनन का मामला तक उठा चुके थे. चमोली जिले को फिल्हाल आपदा के कारण राहत दे दी गई है. शेष तीन जिलों हरिद्वार, देहरादून, ऊधमसिंहनगर की विधानसभाओं की समीक्षा का प्रोग्राम जल्द घोषित किया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज