Home /News /uttarakhand /

Uttarakhand: कांग्रेस की पहली लिस्‍ट से हरीश रावत समेत कई नेताओं के चुनाव लड़ने पर बढ़ा सस्‍पेंस, जानें सबकुछ

Uttarakhand: कांग्रेस की पहली लिस्‍ट से हरीश रावत समेत कई नेताओं के चुनाव लड़ने पर बढ़ा सस्‍पेंस, जानें सबकुछ

कांग्रेस की पहली लिस्ट में हरीश रावत समेत कई नेताओं के नाम नहीं हैं.

कांग्रेस की पहली लिस्ट में हरीश रावत समेत कई नेताओं के नाम नहीं हैं.

Uttarakhand Elections: उत्तराखंड विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस (Congress) ने 53 प्रत्याशियों की अपनी पहली लिस्ट जारी कर दी है. हालांकि इस लिस्‍ट की वजह से कुछ बड़े नेताओं के चुनाव लड़ने पर सस्‍पेंस बढ़ गया है, तो टिकट की मांग कर रहे नेताओं की भी टेंशन बढ़ गयी है. कांग्रेस ने अभी पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस कैंपेन कमेटी के चेयरमैन हरीश रावत (Harish Rawat), भाजपा से कांग्रेस में आए हरक सिंह रावत, कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय सचिव प्रकाश जोशी और महिला कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव अनुपमा रावत (हरीश रावत की बेटी) समेत कई नेताओं का टिकट फाइनल नहीं किया है. हालांकि पहली लिस्‍ट में कांग्रेस के एक परिवार एक सीट के दावे की पोल खुल गयी है. दरअसल कांग्रेस ने पूर्व मंत्री यशपाल आर्य को जहां उधम सिंह नगर की बाजपुर सीट से कांग्रेस ने चुनाव मैदान में उतारा है,तो वहीं उनके बेटे संजीव आर्या को नैनीताल से टिकट दिया गया है.

अधिक पढ़ें ...

देहरादून. उत्तराखंड विधानसभा चुनाव (Uttarakhand Elections 2022) के लिए कांग्रेस (Congress) ने 53 प्रत्याशियों की अपनी पहली लिस्ट शनिवार देर रात जारी कर दी. हालांकि इस लिस्ट ने कई बड़े नेताओं के चुनाव लड़ने पर सस्पेंस और ज्यादा बढ़ा दिया है. पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस कैंपेन कमिटी के चेयरमैन हरीश रावत (Harish Rawat) चुनाव लड़ेंगे या नहीं या फिर किस सीट से मैदान में उतरेंगे, इस पर अभी भी सस्पेंस बरकरार है. इसके साथ ही हाल ही में बीजेपी छोड़ कांग्रेस में शामिल हुए हरक सिंह रावत (Harak Singh Rawat) को लेकर की भी पार्टी ने अभी तक कोई फैसला नहीं किया है.

यही नहीं, हरक सिंह रावत की बहू अनुकृति गुसाईं चुनाव लड़ेंगी या नहीं इस बात से भी पर्दा उठना अभी बाकी है. वहीं, कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष रंजीत रावत कहां से चुनाव लड़ेंगे इसका फैसला भी अभी नहीं हो सका है. इस तरह कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय सचिव प्रकाश जोशी जिस कालाढूंगी सीट से साल 2012 और 2017 का चुनाव लड़ चुके हैं उस पर भी कांग्रेस ने अभी टिकट का फैसला नहीं किया है. बता दें कि इस बार कालाढूंगी सीट से सटी हुई लाल कुआं सीट पर पूर्व मंत्री और बुजुर्ग कांग्रेसी नेता हरीश चंद्र दुर्गापाल चुनावी ताल ठोकने के मूड में है, लेकिन कांग्रेस ने यहां भी अभी टिकट का फैसला नहीं किया है. इस तरह पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत की बेटी अनुपमा रावत भी चुनाव लड़ना चाहती हैं, लेकिन कांग्रेस की पहली लिस्ट में उनका नाम भी नहीं है.

संभावित सीटों पर नहीं हुआ है टिकटों का ऐलान
चर्चा है कि हरीश रावत कुमाऊं की रामनगर, लालकुआं या सल्ट विधानसभा क्षेत्र से चुनाव मैदान में उतर सकते हैं. इन तीनों ही सीटों पर पार्टी ने अभी टिकट का फैसला नहीं किया है. कांग्रेस की प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष रंजीत रावत रामनगर से चुनाव तैयारी में जुटे हुए हैं, लेकिन अगर हरीश रावत रामनगर से चुनाव लड़ने के लिए आते हैं तो रंजीत रावत को सल्ट से चुनाव मैदान में उतारा जा सकता है. चर्चा इस बात की भी तेज है कि हरीश रावत हल्द्वानी से सटी लालकुआं सीट से भी चुनाव लड़ सकते हैं. लालकुआं सीट को लेकर सस्पेंस इसलिए भी बढ़ गया है, क्योंकि पार्टी ने पहली लिस्ट में इस सीट से उम्मीदवार का ऐलान नहीं किया है. इस सीट से वरिष्ठ कांग्रेसी नेता हरीश चंद्र दुर्गापाल अपना दावा ठोक रहे हैं.

कांग्रेस तोड़ चुकी है एक परिवार एक व्यक्ति का फॉर्मूला
कांग्रेस की टिकटों के ऐलान से पहले कहा जा रहा था कि कांग्रेस एक परिवार एक व्यक्ति का फॉर्मूला अपनाएगी, लेकिन कांग्रेस की पहली लिस्ट में यह टूटता हुआ दिखा है. पूर्व मंत्री यशपाल आर्य को जहां उधम सिंह नगर की बाजपुर सीट से कांग्रेस ने चुनाव मैदान में उतारा है,तो वहीं उनके बेटे संजीव आर्या को नैनीताल से टिकट दिया गया है. ऐसे में एक ही परिवार से दो टिकट देकर कांग्रेस ने अपना संभावित फॉर्मूला तोड़ दिया है. ऐसे में हरिद्वार ग्रामीण सीट से पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत की बेटी और महिला कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव अनुपमा रावत के टिकट की चर्चा जोर पकड़ने लगी है. साथ ही हाल ही में बीजेपी छोड़ कांग्रेस में शामिल हुए पूर्व मंत्री हरक सिंह रावत की बहू अनुकृति गुसाईं के चुनाव लड़ने को लेकर भी चर्चाओं का बाजार गर्म है. हालांकि कांग्रेस की दूसरी लिस्ट इन सब कयासों पर विराम लगा देगी.

उत्तराखंड विधानसभा चुनाव 2022
बता दें कि 14 फरवरी को उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव के लिए वोट डाले जाएंगे. कुल 70 विधानसभा सीटों पर होने वाले इस चुनाव के लिए इस बार आम आदमी पार्टी ने भी ताल ठोकी है. उत्तराखंड में कुल 81 लाख 43 हजार 922 वोटर्स हैं, जिनके वोट को लेकर भाजपा और कांग्रेस इस चुनाव में मुख्य प्रतिद्वंद्वी पार्टियां हैं. प्रदेश में चुनाव कोरोना नियमों का पालन करते हुए सम्पन्न कराएं जाएंगे. चुनाव आयोग ने कोरोना को लेकर खास दिशा निर्देश जारी किए हैं.

Tags: CM Pushkar Singh Dhami, Harak singh rawat, Harish rawat, Uttarakhand elections, Uttarakhand Elections 2022

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर