• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttarakhand
  • »
  • उत्तराखंड चुनावः कांग्रेस को राहुल गांधी से ज्यादा प्रियंका पर भरोसा, यूथ वोटरों को जोड़ने की चाहत

उत्तराखंड चुनावः कांग्रेस को राहुल गांधी से ज्यादा प्रियंका पर भरोसा, यूथ वोटरों को जोड़ने की चाहत

राहुल गांधी की इस बैठक में प्रियंका गांधी वाड्रा भी शामिल रहीं. (फाइल फोटो)

राहुल गांधी की इस बैठक में प्रियंका गांधी वाड्रा भी शामिल रहीं. (फाइल फोटो)

Uttarakhand Politics : उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव को लेकर बीजेपी जहां पीएम नरेंद्र मोदी, अमित शाह और राजनाथ सिंह को लाने की तैयारी में है, तो कांग्रेस को प्रियंका गांधी से बड़ी आस है. पार्टी चाहती है कि राहुल से ज्यादा दौरे प्रियंका गांधी के हों.

  • Share this:

देहरादून. उत्तराखंड में 2022 के विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस पार्टी अपने स्टार प्रचारकों (Star Campaigners) को चुनाव मैदान में उतारने की रणनीति बना रही है. इलेक्शन कैम्पेन में युवा वोटरों को खींचने के लिए कांग्रेस की पूरी कोशिश है कि वह प्रियंका गांधी को उत्तराखंड ला सके. बताया जाता है कि 2017 हो या 2019 का चुनाव, राहुल गांधी कोई बड़ा असर छोड़ पाने में नाकाम रहे और बीजेपी ने इस बात का भरपूर फायदा उठाया. अब कांग्रेस को उम्मीद है कि जो फायदा राहुल गांधी के दौरों से नहीं हुआ, उसकी भरपाई प्रियंका कर सकेंगी.

कांग्रेस का इलेक्शन कैम्पेन 2022 के लिए कैसा होगा, ये कैम्पेन कमेटी के चेयरमैन हरीश रावत को तय करना है लेकिन चुनाव में इस बार प्रियंका गांधी को उत्तराखंड लाने की तैयारी है. यूथ वोटर को खींचने के लिहाज़ से इस रणनीति को अहम् माना जा रहा है और यह भी तय है कि आएंगे तो राहुल गांधी भी. हरीश रावत का कहना है कि राहुल गांधी के साथ प्रियंका गांधी को भी इस बार चुनाव प्रचार में लाने की कोशिश की जा रही है.

ये भी पढ़ें : उत्तराखंड पुलिस के ‘शक्तिमान’ की मौत मामले में मंत्री गणेश जोशी अदालत से बरी

Uttarakhand news, Uttarakhand polls, assembly elections, priyanka gandhi tour, rahul gandhi tour, उत्तराखंड न्यूज़, उत्तराखंड चुनाव, प्रियंका गांधी दौरा, राहुल गांधी दौरा

उत्तराखंड चुनाव के लिए कांग्रेस पार्टी स्टार प्रचारकों के दौरों के बारे में रूपरेखा बना रही है.

क्या है प्रियंका बनाम राहुल चर्चा?

उत्तराखंड में राहुल गांधी के मुकाबले प्रियंका गांधी कितनी असरदार होंगी, ये तो चुनाव का रिजल्ट बताएगा, हालांकि बीजेपी ने इस मामले में कांग्रेस पर कटाक्ष शुरू कर दिए हैं. बीजेपी नेताओं का दावा है कि कांग्रेस नेताओं और राज्य की कई विधानसभाओं में राहुल गांधी के बारे में धारणा अच्छी नहीं है. बीजेपी विधायक दिलीप रावत ने दावा किया कि 2017 में कई कांग्रेस विधायकों ने राहुल गांधी को अपने क्षेत्र में बुलाने से मना कर दिया था, इस बार भी यही होगा.

पीएम मोदी पर होगा प्रचार का दारोमदार

दूसरी तरफ, उत्तराखंड चुनाव के लिए बीजेपी के प्रचार का पूरा दारोमदार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ऊपर माना जा रहा है. पीएम मोदी के केदारनाथ दौरे को लेकर प्लानिंग चल रही है तो भाजपा अमित शाह और राजनाथ सिंह जैसे नामों को भी चुनावी अखाड़े में लाने की पूरी कोशिश में है. ऐसे में, कांग्रेस की कोशिश है कि राहुल गांधी से ज़्यादा प्रियंका गांधी को प्रचार में उतारा जाए ताकि युवाओं को साधने में कामयाबी मिले.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज