COVID-19: कोरोना ने शेर का जायका बिगाड़ा, मटन की जगह चिकन से चला रहे काम

बिहार के बगहा के एक गांव में तेंदुआ घुस आया. (प्रतीकात्मक तस्वीर)
बिहार के बगहा के एक गांव में तेंदुआ घुस आया. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

लॉकडाउन (Lockdown) की वजह से उत्तराखंड के चिड़ियाघरों और रेस्क्यू सेंटर में रहने वाले मांसाहारी जानवरों को चिकन खाकर गुजारा करना पड़ रहा है.

  • Share this:
देहरादून. कोरोना वायरस (COVID-19) की वजह से दुनिया बदल गई है. इंसानों के लिए जहां लॉकडाउन (Lockdown) में समय बिताना मुश्किल हो गया है. वहीं प्रकृति और जानवर इसका फ़ायदा उठा रहे हैं. लेकिन उत्तराखंड में लॉकडाउन से कुछ जानवरों का जायका खराब हो गया है. लॉकडाउन की वजह उत्तराखंड के चिड़ियाघरों और रेस्क्यू सेंटर में रहने वाले मांसाहारी जानवरों को चिकन खाकर गुजारा करना पड़ रहा है. आमतौर पर गुलदार और अन्य मांसाहारी जानवरों को रेड मीट यानी मटन और भैंसे का गोश्त दिया जाता है. लॉकडाउन की वजह से उन्हें भी इंसानों की तरह बहुत से समझौते करने पड़ रहे हैं. कोरोना संकट की वजह से इन जानवरों को चिकन ही खाना पड़ रहा है.

सीमाएं बंद होने से रुकी आपूर्ति 

तेंदुए और बाघ की आहार सूची में हिरण, बारहसिंघा, जंगली सूअर, खरगोश जैसे जानवर शामिल होते हैं. उत्तराखंड के चिड़ियाघरों और रेस्क्यू सेंटर्स में तेंदुओं, बाघों और भालू को बकरे या भैंसे का गोश्त दिया जाता था, लेकिन लॉकडाउन पीरियड में यह संभव नहीं हो पा रहा है.



इसकी वजह यह है कि लॉकडाउन पीरियड में जहां सभी सीमाएं बंद होने की वजह से कई राज्यों से खाने-पीने की चीज़ें नहीं आ पा रही थीं. ऐसे में उत्तराखंड वन विभाग ने इन जानवरों के लिए स्थानीय स्तर पर चिकन उपलब्ध करवाया और अब इन जानवरों को चिकन दिया जा रहा है.
घड़ियालों के लिए मछलियां 

प्रदेश के वन मंत्री हरक सिंह रावत ने कहा कि अभी सिर्फ विकल्प के तौर पर जानवरों को यह खाना दिया जा रहा है. उन्होंने बताया कि देहरादून ज़ू, हल्द्वानी नैनीताल के ज़ू और रेस्क्यू सेंटर में भी चिकन ही दिया जा रहा है.

शिवालिक रेंज के वन संरक्षक पीके पात्रो के मुताबिक देहरादून जू में दो लेपर्ड इस समय मौजूद हैं तो चिड़ियापुर रेंज में 8 लेपर्ड हैं. देहरादून ज़ू और रेस्क्यू सेंटर प्रशासन हर रोज़ 15 किलो चिकन तेंदुओं को दे रहा है. देहरादून जू के घड़ियालों के लिए आस-पास के क्षेत्र से मछलियां लाई जा रही हैं.

ये भी पढ़ें-

Corona Update Uttarakhand: एक ही दिन में आए 15 मामले, 66 दिनों में सबसे ज्यादा

अभी नहीं लगेगी शिक्षकों की कोविड-19 ड्यूटी, शिक्षा सचिव ने पलटा विभाग का आदेश
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज