Home /News /uttarakhand /

Covid-19 in Uttarakhand : 10 ज़िलों में कोई नया केस नहीं, 13 से लोगों के लिए खुलेगा FRI

Covid-19 in Uttarakhand : 10 ज़िलों में कोई नया केस नहीं, 13 से लोगों के लिए खुलेगा FRI

उत्तराखंड में कोरोना के मामलों में कमी आई लेकिन वैक्सीनेशन को लेकर लक्ष्य बढ़ा.

उत्तराखंड में कोरोना के मामलों में कमी आई लेकिन वैक्सीनेशन को लेकर लक्ष्य बढ़ा.

एक तरफ उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) को लेकर माहौल गर्म है, तो पिछले कुछ दिनों में बढ़ते देखे गए कोरोना के मामलों को लेकर ओमिक्रॉन के खतरे से प्रशासन के पसीने छूटे. लेकिन, शुक्रवार को जारी हुए आंकड़े ज़रूर कुछ राहत देने वाले दिखे. करीब दो हफ्ते पहले एक साथ करीब दर्जन भर अफसरों के संक्रमण (Officers Infected) के मामले और एक दिन में 50 से भी ज़्यादा नये केस सामने आने के आंकड़ों व घटनाओं के बाद देहरादून (Corona in Dehradun) में जो प्रतिबंध लगाए गए थे, वो ​हटते दिख रहे हैं. जानिए पर्यटकों के लिए क्या नया अपडेट है और राज्य में टीकाकरण (Vaccination) को लेकर क्या चिंता है.

अधिक पढ़ें ...

    देहरादून. कोविड 19 के प्रोटोकॉल के चलते अब फॉरेस्ट रिसर्च इंस्टिट्यूट को पर्यटकों के लिए 13 दिसंबर से खोले जाने का फैसला लिया गया है. कोरोना की स्थिति की बात करें, तो सबसे ज़्यादा नये केस फिलहाल देहरादून में ही मिल रहे हैं, लेकिन स्थिति नियंत्रण में बताई जा रही है. शुक्रवार को राज्य भर में 10 नये केस सिर्फ तीन ज़िलों से मिले, जबकि 10 ज़िलों में कोई नया केस रिपोर्ट नहीं हुआ. एक मौत भी रिपोर्ट की गई है, लेकिन यह किसी ताज़ा केस में नहीं है, बल्कि जून महीने में हुई थी, जो बैकलॉग के तौर पर रिपोर्ट की गई है. इधर, वन विभाग जो कैंपस फिर खोल रहा है, उसमें पर्यटकों के लिए कुछ शर्तें और सीमाएं तय कर दी गई हैं.

    उत्तराखंड में कोरोना से जुड़े आंकड़ों की बात पहले करें तो स्वास्थ्य विभाग के अनुसार पूरे प्रदेश में सरकारी और निजी प्रयोगशालाओं में 13,384 सैंपलों की जांच की गई और इनमें से केवल 10 केस ही पॉज़िटिव पाए गए. देहरादून में सबसे ज़्यादा 5, जबकि पौड़ी में 3 और पिथौरागढ़ में दो की रिपोर्ट पॉज़िटिव आई. बाकी ज़िलों में कोई नया केस रिपोर्ट नहीं हुआ. इधर, वैक्सीनेशन को लेकर आंकड़े बता रहे हैं कि अब तक राज्य में 76 लाख 62 हज़ार से ज़्यादा लोगों को पहला डोज़ दिया जा चुका है और 56 लाख 10 हज़ार से ज़्यादा को दोनों डोज़. वहीं, करीब दो हफ्ते पहले बंद किए गए एफआरआई को दोबारा खोला जा रहा है.

    सिर्फ 200 पर्यटक प्रतिदिन की सीमा
    देहरादून स्थित एफआरआई को 13 दिसंबर से खोला जाएगा, लेकिन एक दिन में फिलहाल 200 पर्यटकों की लिमिट रहेगी. सुबह 9 से शाम 5 बजे के बीच ही कैंपस में आगंतुक आ सकेंगे और वह भी ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाने के बाद ही. बता दें कि उत्तर प्रदेश में ट्रेनिंग के लिए गया वन विभाग के अफसरों का एक दल दो सप्ताह पहले जब देहरादून लौटा था, तो 11 आईएफएस अफसर संक्रमित पाए गए थे. तब उन्हें एफआरआई में ही क्वारंटाइन कर संस्थान को बाहरी लोगों के लिए बंद कर दिया गया था.

    वैक्सीनेशन में नहीं आ रही तेज़ी!
    पिछले करीब तीन महीनों के बाद उत्तराखंड में रोज़ाना आने वाले नये केसों की संख्या बीते दो हफ्तों के दौरान अचानक बढ़ना शुरू हुई थी. इसको लेकर राज्य में अब भी चिंता का माहौल है, लेकिन इसके बावजूद कहा जा रहा है कि वैक्सीनेशन की जो रफ्तार होना चाहिए, वह नहीं है. सोशल डेवलपमेंट फॉर कम्युनिटी फाउंडेशन के मुताकि 31 दिसंबर तक कंपलीट वैक्सीनेशन के​ लिए अब 22 दिन शेष हैं इसलिए रोज़ 1 लाख से ज़्यादा डोज़ लगाने होंगे, तेज़ी नहीं आ रही. फाउंडेशन के अनूप नौटियाल के मुताबिक स्वास्थ्य विभाग को अब घर-घर जाकर टीका लगाने की ज़रूरत बन गई है.

    Tags: Dehradun Latest News, Dehradun news, Uttarakhand Corona Update, Uttarakhand news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर