लाइव टीवी

COVID-19: CM ने मुख्यमंत्री राहत कोष में दिया पांच महीने का वेतन, पत्नी और बेटियों ने भी दी सहायता राशि
Dehradun News in Hindi

Rajesh Dobriyal | News18 Uttarakhand
Updated: April 1, 2020, 2:31 PM IST
COVID-19: CM ने मुख्यमंत्री राहत कोष में दिया पांच महीने का वेतन, पत्नी और बेटियों ने भी दी सहायता राशि
मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के साथ ही उनकी पत्नी और बेटियों ने भी मुख्यमंत्री राहत कोष में सहायता राशि दी है.

उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग ने मार्च के वेतन से ही सभी सदस्यों, कर्मचारियों का दो दिन का वेतन मुख्यमंत्री राहत कोष में दे दिया था.

  • Share this:
देहरादून. कोरोना वायरस से जंग में लगातार मदद के हाथ बढ़ रहे हैं. मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कोरोना वायरस से लड़ने के लिए अपने 5 माह का वेतन मुख्यमंत्री राहत कोष में देने का निर्णय लिया है. इस अभियान में उन्हें परिवार का भी साथ मिला है और उनकी पत्नी सुनीता रावत ने मुख्यमंत्री राहत कोष में एक लाख रुपये, मुख्यमंत्री की बेटी कृति रावत ने 50,000 रुपये और सृजा ने 2,000 रुपये के चेक मुख्यमंत्री राहत कोष के लिए सौंपे हैं. बुधवार को ही कई और हाथ भी मदद के लिए बढे जिनमें सरकारी अधिकारी, स्कूल और कर्मचारी संगठन भी शामिल हैं.

मार्च में ही हो गई थी शुरुआत 

कोरोना से जंग में सहायता देने की शुरुआत संभवतः सबसे उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग ने की थी. आयोग ने 30 मार्च को ही आयोग के अध्यक्ष, सदस्यों और सभी अधिकारियों-कर्मचारियों का दो दिन का वेतन मुख्यमंत्री राहत कोष में देने का ऐलान कर दिया था. आयोग के सचिव संतोष बडोनी के अनुसार यह राशि मार्च के वेतन से कटवा दी गई थी.



बुधवार को द इंडियन एकेडमी सीनियर सेकेंडरी स्कूल की ओर से कोरोना वायरस से जंग में सहयोग के लिए मुख्यमंत्री राहत कोष में दो लाख रुपये का अंशदान दिया. स्कूल के डायरेक्टर मुनेन्द्र खंडूड़ी ने इस राशि का चेक दिया.



डीजी स्वास्थ्य और पति ने दिए 50-50 हज़ार  

डीजी स्वास्थ्य डॉक्टर अमिता उप्रेती ने मुख्यमंत्री राहत कोष में 50,000 रुपये और उनके पति डॉक्टर ललित मोहन उप्रेती ने भी 50,000 रुपये दिए हैं.

मुख्यमंत्री के ओएसडी जेसी खुल्बे ने 5,000 रुपये, मुख्यमंत्री के वरिष्ठ प्रमुख निजी सचिव केके मदान ने 11,000 रुपये और मुख्यमंत्री के वरिष्ठ निजी सचिव हेमचंद्र भट्ट ने 5,100 रुपये मुख्यमंत्री राहत कोष में दिए हैं.

ये भी देेखें: 

लॉकडाउन में वास्तव में मित्र साबित हो रही है पुलिस, खाना-राशन से दवाइयां तक पहुंचा रही 

खुद न उठाओ खतरा, 'देहरादून हैप्पी मील्स' से करो संपर्क... ज़रूरतमंद तक पहुंचेगी आपकी मदद

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देहरादून से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 1, 2020, 2:30 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading