COVID-19: सतपाल महाराज के परिवार के पांच सदस्य ऋषिकेश AIIMS से डिस्चार्ज, Home Quarantine में की जाएगी निगरानी

उत्तराखंड के पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज
उत्तराखंड के पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज

ऋषिकेश एम्स (AIIMS) के मुताबिक ऐसे व्यक्ति जिनमें लक्षण नहीं मिल रहे हों केंद्र की गाइडलाइन के अनुसार उनको हॉस्पिटल में नहीं रखा जा सकता इसलिए सतपाल महाराज (Satpal Maharaj) की फैमिली के पांच सदस्यों को डिस्चार्ज कर दिया गया है.

  • Share this:
ऋषिकेश. कोराना संक्रमण (covid-19 infection) की चपेट में आए पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज (Tourism Minister Satpal Maharaj) और उनके परिवार के सदस्यों के कोरोना पॉजिटिव (Corona positive) होने की खबर ने उत्तराखंड में खलबली मचा दी है. सतपाल फैमिली के संपर्क में आए मंत्री से लेकर संतरी तक सभी लोगों पर कोराना का खतरा मंडराने लगा है. वहीं इस परिवार के लिए राहत भरी खबर ये है कि ऋषिकेश के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) में भर्ती राज्य के पर्यटन मंत्री के परिवार के पांच सदस्यों को हॉस्पिटल से डिस्चार्ज करके उन्हें होम क्वारंटाइन (Home Quarantine) में रहने की सलाह दी गई है.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की गाइड लाइन के अनुसार मिली छूट
डॉक्टरों ने बताया कि डिस्चार्ज किए गए सदस्य ए-सिम्टमेटिक (जिस व्यक्ति में रोग के लक्षण नहीं दिखाई दे रहे हों) थे. लिहाजा केंद्र सरकार की गाइडलाइन के आधार पर उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है, एम्स ऋषिकेश की ओर से जारी हेल्थ बुलेटिन में प्रो. यूबी मिश्रा ने बताया कि कैबिनेट मंत्री व उनकी पत्नी समेत सात पारिवारिक सदस्यों को कोविड संक्रमित पाए जाने पर एम्स ऋषिकेश में भर्ती किया गया था. जहां सभी सदस्यों की विस्तृत जांच की गई, परिवार के पांच सदस्यों को सोमवार शाम डिस्चार्ज कर दिया गया है. साथ ही उन्हें होम क्वारंटाइन में रहने की सलाह दी गई है, चुंकि ये सदस्य ए-सिम्टमैटिक (A-symptomatic) हैं, लिहाजा ऐसे पेशेंट जिनमें कोविड के लक्षण नहीं दिखाई दे रहे हैं, को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की गाइडलाइन के तहत होम क्वारंटाइन में रखा जा सकता है.

लिहाजा उनके व्यक्तिगत आग्रह पर उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया तथा होम क्वारंटाइन में रहने की सलाह दी गई है. ऋषिकेश एम्स में भर्ती 7 लोगों में से पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज और उनकी पत्नी को छोड़कर बाकी पांच सदस्यों को जिनमें उनके दो बेटे, दो बहुएं और एक छोटा बच्चा शामिल है, को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है, क्योंकि परिवार ने रिक्वेस्ट करी थी कि वह घर जाकर होम क्वारंटाइन में रहना चाहते हैं. ऋषिकेश एम्स के मुताबिक ऐसे व्यक्ति जिनमें लक्षण नहीं मिल रहे हों केंद्र की गाइडलाइन के अनुसार उनको हॉस्पिटल में नहीं रखा जा सकता इसलिए सतपाल महाराज की फैमिली के पांच सदस्यों को डिस्चार्ज कर दिया गया है.साथ ही इनको सलाह दी गई है कि वह सभी गाइडलाइन का पालन करें. साथ ही स्वास्थ्य टीम इनकी निगरानी करेगी.
ये भी पढ़ें- उत्तराखंड में होम नहीं, सेल्फ क्वारंटाइन होंगे CM त्रिवेंद्र सिंह रावत और 3 मंत्री


अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज