उत्तराखंड में होम क्वारंटाइन का सख्ती से करना होगा पालन, नहीं तो पड़ोसी कर सकता है शिकायत
Dehradun News in Hindi

उत्तराखंड में होम क्वारंटाइन का सख्ती से करना होगा पालन, नहीं तो पड़ोसी कर सकता है शिकायत
उत्तराखंड सरकार चाहती है कि हताश होकर लौटे लोग फिर पहाड़ों से पलायन न करें. (फाइल फोटो मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत)

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की तरफ से भी साफ कह दिया गया है कि होम क्वारंटाइन को लेकर सख्ती की जाए. इसके बाद जिला प्रशासन की तरफ से दो हेल्पलाइन नंबर जारी किए हैं जिसमें कहा गया है कि अगर कोई व्यक्ति होम क्वारंटाइन का उल्लंघन करता है तो उसकी शिकायत (Complaint) इन नंबरों पर की जा सकती है

  • Share this:
देहरादून. अगर प्रशासन ने आपको होम क्वारंटाइन (Home Quarantine) किया है और आप नियमों का पालन नहीं कर रहे हैं, तो आपका पड़ोसी आपकी शिकायत कर सकता है. होम क्वारंटाइन को लेकर उत्तराखंड (Uttarakhand) में जिला प्रशासन ने सख्ती बरतना शुरू कर दिया है. प्रशासन की तरफ से दो हेल्पलाइन नंबर जारी किए हैं, जिसमें अगर कोई व्यक्ति होम क्वारंटाइन का उल्लंघन करता है तो उसकी शिकायत (Complaint) जारी किए गए इन नंबरों पर की जा सकती है.

news18
(फाइल फोटो)


जिला प्रशासन ने आपदा कंट्रोल रूम और पुलिस के नंबर जारी करते हुए सभी लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी है. उसने कहा है कि नियम का पालन न करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जा सकती है. यदि कोई नियम को नहीं मानता तो उसकी शिकायत 0135-272 950 और 0135-272 2142 नंबरों पर कर सकते हैं. अन्य राज्यों से प्रवासियों के उत्तराखंड लौट कर आने की वजह से यहां कोरोनावायरस के मरीज बढ़ रहे हैं. सरकार की तरफ से लोगों को होम क्वारंटाइन रहने की सख्त हिदायत दी गई है लेकिन लोग इसे मानने को तैयार नहीं हैं. इसे देखते हुए अब सख्ती बरती जा रही है.



आपदा प्रबंधन के तहत कार्रवाई
मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की तरफ से भी साफ कह दिया गया है कि होम क्वारंटाइन को लेकर सख्ती की जाए. इसलिए प्रशासन ने अब दो नंबर जारी किए हैं. साथ ही कुल्हान, आसारोड़ी, रायपुर जैसे चेकपोस्ट पर रैंडम सैंपल भी ज्यादा लिए जा रहे हैं, ताकि सही समय पर कोरोना पेशेंट की पहचान हो सके. इसके अलावा उन तमाम लोगों को होम क्वारंटाइन भी किया जा रहा है और उन पर निगरानी की जा रही है. ऐसे में अब यदि आपका पड़ोसी नियमों का उल्लघंन करता है तो आप शिकायत कर सकते हैं, जिसके बाद आपदा प्रबंधन के तहत कार्रवाई की जाएगी.

ये भी पढ़ें: चार धाम यात्रा: भक्तों को मिली ऑनलाइन पूजा और दर्शन की अनुमति, लेकिन ये रहेंगी शर्तें
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading