Covid-19 Update: उत्तराखंड में कोरोना के 296 नए मामले आए सामने, 12 लोगों की मौत

अब तक प्रदेश में कुल 6960 लोग महामारी से जान गंवा चुके हैं. (सांकेतिक फोटो)

नए मामलों में सर्वाधिक 76 कोविड मरीज देहरादून (Dehradun) जिले में मिले जबकि हरिद्वार में 64, उत्तरकाशी में 37, उधमसिंह नगर में 24 और नैनीताल तथा अल्मोड़ा में 21-21 मामले सामने आए.

  • Share this:
    देहरादून. उत्तराखंड (Uttarakhand) में सोमवार को कोविड-19 (COVID-19) के 296 नए मामले सामने आए तथा 12 और लोगों ने महामारी से दम तोड़ दिया. इसके साथ ही ब्लैक फंगस से पीड़ित एक और मरीज की मौत हो गई. यहां स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी बुलेटिन के अनुसार, नए मामलों को मिलाकर प्रदेश में अब तक कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या 337175 हो चुकी है. नए मामलों में सर्वाधिक 76 कोविड मरीज देहरादून (Dehradun) जिले में मिले जबकि हरिद्वार में 64, उत्तरकाशी में 37, उधमसिंह नगर में 24 और नैनीताल तथा अल्मोड़ा में 21-21 मामले सामने आए.

    इसके अलावा, अब तक प्रदेश में कुल 6960 लोग महामारी से जान गंवा चुके हैं. प्रदेश में उपचाराधीन मामलों की संख्या 3908 है जबकि 320549 मरीज अब तक स्वस्थ हो चुके हैं. इस बीच, प्रदेश में ब्लैक फंगस या म्यूकरमाइकोसिस के 10 और मामले सामने आए जबकि एक और मरीज की इस बीमारी से मौत हो गई. प्रदेश में इस रोग के अब तक 400 मरीज मिल चुके हैं जिनमें से 67 की मृत्यु हो चुकी है.

    ये कतई नुकसानदायक नहीं है
    वहीं, कल ही उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने मुस्लिम समुदाय (Muslim Community) को लेकर बड़ा बयान दिया था. उन्‍होंने कहा कि मैं जानबूझ कर नाम ले रहा हूं. हमारे देश में इस समय मुस्लिम समुदाय कोरोना वैक्‍सीनेशन (Corona Vaccination) से दूर भाग रहा है. इसके साथ उन्‍होंने कहा कि मुस्लिम समुदाय को अभी भी झिझक, आशंकाएं और गलतफहमियां हैं, जिसे दूर किया जाना जरूरी है. यह बात पूर्व सीएम ने ऋषिकेश में विश्व रक्तदान दिवस पर सोमवार को कही. इसके साथ पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि कोरोना महामारी से बचने के लिए वैक्‍सीनेशन जरूरी है, क्योंकि इससे मजबूत इम्यूनिटी बढ़ती है, लेकिन मुस्लिम समाज के लोग वैक्‍सीनेशन से बच रहे हैं. इस दौरान उन्‍होंने सामाजिक संगठनों और मीडिया से अपील की कि आप लोग मुस्लिम समुदाय को कोरोना वैक्‍सीनेशन के लिए समझाएं, ये कतई नुकसानदायक नहीं है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.