प्रकाश पंत जी का हमारे बीच से चले जाना अपूरणीय क्षति : हरीश रावत

पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि उनकी संवेदनाएं पिथौरागढ़ के उन लोगों के साथ भी है जिन्होंने प्रकाश पंत जी को गढ़ने का काम किया.

News18 Uttarakhand
Updated: June 6, 2019, 8:33 PM IST
प्रकाश पंत जी का हमारे बीच से चले जाना अपूरणीय क्षति : हरीश रावत
कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता और उत्‍तराखंड के पूर्व मुख्‍यमंत्री हरीश रावत.
News18 Uttarakhand
Updated: June 6, 2019, 8:33 PM IST
पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने वित्त मंत्री प्रकाश पंत के निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया है. उन्होंने कहा कि प्रकाश पंत का आक्सिमक निधन उत्तराखंड के लिए एक अपूरणीय क्षति है. इस हृदयविदारक समाचार को सुनकर विश्वास नहीं हो रहा है. इस जीवंत व्यक्ति से उत्तराखंड को ढेरों अपेक्षाएं थी. ऐसा विश्वास नहीं होता है कि ऐसा व्यक्ति हम सभी को छोड़कर यूं ही चला जाएगा. हरीश रावत ने आगे कहा कि प्रकाश जी मृदुल स्वभाव के थे. सभी को प्यार करने वाले, सभी को आश्वस्त करते हुए काम करने वाले और सभी की सुनने वाले व्यक्ति थे. साथ ही वह एक क्षमतावान प्रशासक भी थे. प्रकाश जी बहुत अच्छे मंत्री साबित हो रहे थे. उत्तराखंड को उनसे ढेरों अपेक्षाएं थीं.

'हमेशा एक दूसरे के प्रति प्यार व आदर भाव रहा'
हरीश रावत ने कहा कि प्रकाश पंत के साथ राजनीतिक क्षेत्र में काम करने का उन्हें बड़ा लंबा समय मिला. उन्होंने कहा कि वह और प्रकाश पंत दूसरी पार्टी में रहे मगर हमेशा एक-दूसरे के लिए प्यार और आदर भाव रहा. प्रकाश पंत जी के स्वभाव से हमेशा ऐसा लगता था जैसे वह कुछ सिखने के लिए उत्सुक हैं. इसीलिए वह एक विधायक के रूप में, एक पार्लियामेंटरियन के रूप में, एक प्रशासक के रूप में, एक व्यक्ति के रूप में, दोस्त के रूप में और पार्टी कार्यकर्ता के रूप में बहुत विलक्षण थे. हरीश रावत ने कहा कि ऐसे लोगों की जरूरत ऊपर वाले लोगों को भी है. ऊपर वाले ने प्रकाश जी को असमय हमारे से बीच बुला लिया है. भगवान उनकी आत्मा को शांति दे. उनके परिवार के लोगों को इस दुख को सहने की क्षमता दे. पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि पूरा उत्तराखंड दुखी है.

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी संवेदनाएं पिथौरागढ़ के उन लोगों के साथ भी है जिन्होंने प्रकाश पंत जी को गढ़ने का काम किया. हरीश रावत ने कहा- मेरी संवेदनाएं उन सभी के साथ है जिन्होंने प्रकाश को प्रकाश पंत बनाया और प्रकाश को प्रकाश पंत जी बनाया. फिर प्रकाश पंत जी को एक आदरणीय व्यक्ति बनाया. उन्होंने कहा कि वह ऐसे सभी लोगों के साथ अपनी संवेदनाएं बांटना चाहते हैं.

ये भी पढ़ें - प्रकाश पंत के निधन पर राज्य में 3 दिन के राजकीय शोक की घोषणा

ये भी पढ़ें - प्रकाश पंत के निधन पर सीएम ने कहा- हमने अपना छोटा भाई खो दिया

Facebook पर उत्‍तराखंड के अपडेट पाने के लिए कृपया हमारा पेज Uttarakhand लाइक करें.
Loading...

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देहरादून से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 6, 2019, 12:56 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...