देहरादून: टिहरी झील में जल्द दिखेगी हाई स्पीड मोटर बोट, जल पुलिस को रेस्क्यू में होगी आसानी

आने वाले समय में कोई भी जलीय आपदा राज्य में आये तो जल पुलिस और एसडीआरएफ की टीम जल्द रिस्पोंस करेगी. (फाइल फोटो)

आने वाले समय में कोई भी जलीय आपदा राज्य में आये तो जल पुलिस और एसडीआरएफ की टीम जल्द रिस्पोंस करेगी. (फाइल फोटो)

इस समय जल पुलिस (Water police) को मजबूत करने के लिए पुलिस मुख्यालय द्वारा अत्याधुनिक आपदा उपकरणों से लैस किया जा रहा है.

  • Share this:
देहरादून. उत्तराखंड में सिटी पुलिस (City Police) के बाद अब जल पुलिस को भी हाईटेक किया जा रहा है. जिसके लिए पहले चरण में टिहरी झील (Tehri Lake) में स्थित जल पुलिस को हाई स्पीड मोटर बोट (High Speed Motor Boat) दिया जा रहा है. इस हाई स्पीड मोटर बोट से जल पुलिस को झील में रेस्क्यू करने में आसानी होगी. दरअसल, टिहरी झील करीब 42 किमी लम्बी है और झील में आये दिन कई हादसे भी देखने को मिलते हैं. लेकिन घटना घटने के बाद पुलिस समय पर नहीं पहुंच पाती है. जिसका बढ़ा कारण जल पुलिस के पास सही उपकरणों का न होना था . लेकिन अब टिहरी झील में स्थित जल पुलिस के पास हाई स्पीड मोटर बोट होगी, जिसकी स्पीड लगभग 20-25 नॉटिकल मील प्रति घंटा रहेगी. जिससे झील के पास होने वाली किसी भी घटना में पुलिस जल्द रिस्पोंस कर राहत बचाव कार्य कर सकेगी. साथ ही दो और मोटर बोट भी जल पुलिस को दी जाएगी, जिससे किसी भी स्थान में होने वाली जलीय आपदाओं में समय-समय पर आयोजित होने वाले विभिन्न स्नान पर्वों, कांवड मेला एवं कुम्भ मेले में इनका उपयोग किया जाएगा.

वहीं, इस समय जल पुलिस को मजबूत करने के लिए पुलिस मुख्यालय द्वारा अत्याधुनिक आपदा उपकरणों से लैस किया जा रहा है. इसके लिए सभी टीमों को लाइफ जैकट, राफ्ट, पर्सनल थ्रो बैग, स्कूबा डाइविंग सूट, फ्लोटिंग रेस्क्यूअर स्टेशन, रिचार्जेबल मोबाइल रिमोट एरिया लाइटिंग सिस्टम, ड्राई बैग, ड्राई सूट उपकरण खरीदे जा रहे हैं.  साथ ही अलकनंदा और गंगा नदी पर जल पुलिस की स्थाई चोकियां बनाई गयी हैं जिनमें जल पुलिस का डिप्लॉयमेंट किया जाएगा. जिससे किसी भी व्यक्ति के डूबने या बहने की सूचना पर जल पुलिस तुरंत रिस्पोंस कर व्यक्ति को बचा सकेगी. जिसमें रुद्रप्रयाग, देवप्रयाग, शिवपुरी, त्रिवेणी घाट और ऋषिकेश में भी जल पुलिस की स्थाई चोकियां रहेंगी.

Youtube Video


एसडीआरएफ की टीम जल्द रिस्पोंस करेगी
वहीं, उत्तराखंड के डीजीपी अशोक कुमार का कहना है कि लगातार इन इलाकों में टूरिस्ट बढ़ रहे हैं. और कई बार अप्रिय घटनाएं भी सामने आती रही हैं. लेकिन अब जल पुलिस की तैनाती बढ़ाने से असर देखने को मिलेगा. और सभी टीमों को उपकरणों से लैस कर दिया गया है. जिससे आने वाले समय में कोई भी जलीय आपदा राज्य में आये तो जल पुलिस और एसडीआरएफ की टीम जल्द रिस्पोंस करेगी .
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज