होम /न्यूज /उत्तराखंड /अब आप बता पाएंगे कि कितना साफ है देहरादून, स्वच्छता सर्वेक्षण 2023 की तैयारियां शुरू

अब आप बता पाएंगे कि कितना साफ है देहरादून, स्वच्छता सर्वेक्षण 2023 की तैयारियां शुरू

कर्मचारियों को ट्रेनिंग दी जा रही है. जल्द ही पोर्टल खोल दिया जाएगा, जिसमें देहरादून में रहने वाले लोग देहरादून के लिए ...अधिक पढ़ें

    हिना आज़मी/देहरादून. उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में स्वच्छता सर्वेक्षण 2023 के लिए नगर निगम तैयारियां कर रहा है. दूनवासी हर बार की तरह इस बार भी देहरादून शहर पर अपनी राय दे पाएंगे. पिछले 5 सालों में देहरादून ने स्वच्छता के मामले में 384वें स्थान से 69वीं रैंक तक हासिल की है. इस बार नगर निगम इस रेस में और बेहतर रैंक लाने की तैयारी कर रहा है. देहरादून निवासी वीके का कहना है कि दूनवासियों को नगर निगम का सहयोग करना चाहिए.

    देहरादून निवासी बसुदेव सिंह का कहना है कि अगर देहरादून की बात करें तो यहां रहने वाले लोगों को तो सफाई का ध्यान रखना ही चाहिए, बल्कि सरकार को पॉलिथीन इस्तेमाल करने वाले लोगों के साथ-साथ पॉलिथीन उत्पादन करने वाले लोगों पर भी जुर्माना लगाना चाहिए. नगर स्वास्थ्य अधिकारी अविनाश खन्ना ने जानकारी दी है कि नगर निगम ने स्वच्छता सर्वेक्षण 2023 के लिए कमर कस ली है. कर्मचारियों को ट्रेनिंग दी जा रही है. जल्द ही पोर्टल खोल दिया जाएगा, जिसमें देहरादून में रहने वाले लोग देहरादून के लिए वोट कर सकेंगे.

    बता दें कि स्वच्छता सर्वेक्षण 2023 में इस बार कई आयामों पर गौर किया जा रहा है. स्वच्छता सर्वेक्षण में आगे रहने वाले इंदौर शहर की तरह पहली बार स्वच्छता सर्वेक्षण के लिए देहरादून में क्विक रिस्पांस टीम का गठन किया जाएगा, जो शहर में 10 से 24 घंटे के भीतर शिकायत मिलने पर कूड़ा उठाएगी. इसी के साथ ही कैशलेस ट्रांजेक्शन को बढ़ावा दिया जा रहा है ताकि भ्रष्टाचार को बंद किया जा सके.

    इस बार सर्वेक्षण करने वाली टीम देहरादून शहर के खाली पड़े प्लॉटों का भी जायजा लेगी. यदि उनमें कूड़ा नजर नहीं आया, तो उसके अलग से अंक मिलेंगे. मिली जानकारी के मुताबिक स्वच्छता सर्वेक्षण 2023 में 70 फीसदी अंक डायरेक्ट ऑब्जर्वेशन , सर्विस लेवल बेंचमार्क और पब्लिक फीडबैक के होंगे और 30 फीसदी अंक सर्टिफिकेट्स के होंगे.इस बार देहरादून का टॉप 50 में शामिल होने का प्रयास रहेगा.

    Tags: Dehradun news, Uttarakhand news

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें