गैरसैण कमिश्नरी पर पूर्व CM त्रिवेंद्र रावत की दो टूक, मेरा कोई भी फैसला अकेले का नहीं

गैरसेण को कमिश्नरी बनाने के निर्णय को पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि ऐसा सबकी सहमति के बाद किया गया था (फाइल फोटो)

गैरसेण को कमिश्नरी बनाने के निर्णय को पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि ऐसा सबकी सहमति के बाद किया गया था (फाइल फोटो)

पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत (Trivendra Singh Rawat) ने स्पष्ट रूप से कहा कि यह मेरे अकेले का फैसला नहीं था, सबसे बात कर के ही गैरसैण (Gairsain) पर फैसला हुआ था. अगर कोई फैसला लिया गया था तो वो सरकार का फैसला है न कि मुख्यमंत्री रहते हुए त्रिवेंद्र सिंह रावत का फैसला

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 28, 2021, 10:57 PM IST
  • Share this:
देहरादून. गैरसैण कमिश्नरी (Gairsain Commissionerate) का फैसला उत्तराखंड बीजेपी (Uttarakhand BJP) में रार पैदा करता दिख रहा है. मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत (Tirath Singh Rawat) ने जहां इस फैसले पर विचार करने की बात कही है. वहीं पूर्व सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत (Trivendra Singh Rawat) ने स्पष्ट किया कि यह उनके अकेले का फैसला नहीं था. बीजेपी में इसे लेकर मचे घमासान से कांग्रेस को चुटकी लेने का मौका मिल गया है.

दरअसल बीजेपी सरकार का गैरसैण कमिश्नरी बनाने का फैसला पार्टी में अंतर्कलह की वजह बन गया है. जनता की भावनाओं को देखते हुए सीएम तीरथ सिंह रावत ने 22 मार्च को न्यूज़ 18 से कहा था कि हम जनभावनाओं को देखते हुए फैसले ले रहे हैं. गैरसैण कमिश्नरी के फैसले पर क्या करना है इस पर सरकार विचार करेंगी. लेकिन इस बीच पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने दो टूक कहा है कि यह मेरे अकेले का फैसला नहीं था, सबसे बात कर के ही गैरसैण पर फैसला हुआ था. उन्होंने कहा कि अगर कोई फैसला लिया गया था तो वो सरकार का फैसला है न कि मुख्यमंत्री रहते हुए त्रिवेंद्र सिंह रावत का फैसला.

वहीं, इस मुद्दे पर बीजेपी में मचे घमासान से कांग्रेस मन ही मन खुश है. पार्टी के प्रदेश अध्य्क्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि बीजेपी में अंर्तकलह चल रहा है, पार्टी के तीन विधायक इस फैसले के विरोध में बोलने लगे हैं. लेकिन त्रिवेंद्र रावत कहते हैं कि सबकी सहमति से फैसला लिया गया था. उन्होंने कहा कि अब फैसला वापस होगा या नहीं यह तो वक्त बतायेगा. लेकिन इतना जरूर है कि अगर गैरसैण कमिश्नरी पर सरकार बैकफुट पर आई तो दोनों ही हालत में बीजेपी की ही किरकिरी होगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज