चैंपियन प्रकरण : देशराज ने कहा- जो अनुशासन तोड़ेगा उसके खिलाफ कार्रवाई होगी

चैंपियन का खुद के साथ हुए विवाद मामले में कर्णवाल ने कहा कि उन्होंने कभी पार्टी का अनुशासन नहीं तोड़ा.

Sunil Navprabhat | News18 Uttarakhand
Updated: June 24, 2019, 12:49 PM IST
चैंपियन प्रकरण : देशराज ने कहा- जो अनुशासन तोड़ेगा उसके खिलाफ कार्रवाई होगी
देशराज कर्णवाल, विधायक, झबरेड़ा
Sunil Navprabhat
Sunil Navprabhat | News18 Uttarakhand
Updated: June 24, 2019, 12:49 PM IST
खानपुर विधायक कुंवर प्रणव चैंपियन पर पत्रकार राजीव तिवारी के साथ अभद्रता करने के मामले में पार्टी स्तर पर गिरी गाज से झबरेड़ा विधायक देशराज कर्णवाल खुश हैं. कर्णवाल का कहना है कि भाजपा एक अनुशासित पार्टी है. चैंपियन का खुद के साथ हुए विवाद मामले में कर्णवाल ने कहा कि उन्होंने कभी पार्टी का अनुशासन नहीं तोड़ा. उन्होंने केवल कुंवर प्रणव चैंपियन की अभद्रता का जवाब दिया. कर्णवाल ने कहा कि जुर्म करने वाले से ज्यादा जुर्म सहने वाला गुनहगार होता है. इसलिए उन्होंने सिर्फ कुंवर प्रणव चैंपियन द्वारा खुद के बारे में की गई आपत्तिजनक टिप्पणियों का जवाब दिया था.

... तब पार्टी और भी सख्त कार्रवाई करेगी
बता दें कि खानपुर से भारतीय जनता पार्टी के विधायक कुंवर प्रणव चैंपियन द्वारा न्यूज 18 के पत्रकार राजीव तिवारी को जान से मारने की धमकी देने के खिलाफ हुई कार्रवाई के तहत उन्हें पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से तीन महीने के लिए निलंबित कर दिया गया है. इस कार्रवाई के बाद चैंपियन अब विधानमंडल दल और पार्टी की बैठकों में भाग नहीं ले पाएंगे. चैंपियन के खिलाफ यह कार्रवाई उनके अनुशासनहिनता को लेकर की गई है. पिछले दिनों ऋषिकेश के परमार्थ निकेतन में बीजेपी की प्रदेश पदाधिकारियों की बैठक में चैंपियन प्रकरण पर चर्चा हुई थी. पार्टी ने चैंपियन के आचरण को अनुशासनहीनता के दायरे में मानते हुए उनके खिलाफ कार्रवाई की. जानकारी के अनुसार इसके बाद भी अगर चैंपियन के आचरण में सुधार नहीं हुआ तब पार्टी उनके खिलाफ इससे भी ज्यादा सख्त निर्णय ले सकती है.

चैंपियन ने दी थी धमकी

चैंपियन के खिलाफ पार्टी ने यह कार्रवाई कुछ दिन पहले एक मीडियाकर्मी को कथित रूप से धमकी देने के मामले में की है. बता दें कि पहले से ही अनुशासनहीनता के कारण जांच में फंसे चैंपियन का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था. उस वीडियो में चैंपियन एक मीडियाकर्मी को धमका रहे थे. इस वीडियो के वायरल होने के बाद भाजपा में अनुशासन को लेकर कई तरह के प्रश्न खड़े हो गए थे. बता दें कि इससे पहले चैंपियन का झगड़ा झबरेड़ा विधायक देशराज कर्णवाल से चल रहा था. उन्होंने देशराज कर्णवाल के खिलाफ कई तरह की आपत्तिजनक टिप्पणियां की थी. तब चैंपियन को पार्टी के सीनियर लीडर्स ने समझाने की कोशिश की थी. लेकिन उस समय भी चैंपियन अपनी हरकतों से बाज नहीं आए थे. बता दें कि चैंपियन के खिलाफ हुई कार्रवाई पर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने कहा कि उन्हें पार्टी में अनुशासन कायम रखने के लिए ऐसा निर्णय लेना पड़ा.

ये भी देखें - न्यूज18 के पत्रकार को धमकाने वाले BJP विधायक निलंबित

ये भी देखें - चैंपियन के निलंबन पर सीएम त्रिवेंद्र रावत ने ये कहा
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...