देहरादून: प्रतिबंध के बावजूद धड़ल्ले से बिक रहे हैं पटाखे

पटाखा व्यापारी सभी नियमों को ताक पर रख प्रतिबंधित स्थानों पर भी पटाखों की दुकानें सजाए बैठे हैं, जिसकी वजह से कभी भी कोई बड़ी दुर्घटना घट सकती है.

Avnish Pal | News18 Uttarakhand
Updated: November 7, 2018, 4:12 PM IST
देहरादून: प्रतिबंध के बावजूद धड़ल्ले से बिक रहे हैं पटाखे
देहरादून: प्रतिबंध के बावजूद धड़ल्ले से बिक रहे पटाखे
Avnish Pal | News18 Uttarakhand
Updated: November 7, 2018, 4:12 PM IST
उत्तराखंड की राजधानी देहरादून का पलटन बाजार सबसे व्यस्ततम बाजार माना जाता है. दीपावली के मौके पर यहां हजारों की संख्या में लोग खरीदारी करने के लिए पहुंचते हैं. वहीं दूसरी तरफ पटाखा व्यापारी सभी नियमों को ताक पर रख प्रतिबंधित स्थानों पर भी पटाखों की दुकानें सजाए बैठे हैं, जिसकी वजह से कभी भी कोई बड़ी दुर्घटना घट सकती है. इससे न केवल बाजारों की दुकानों को खतरा है बल्कि बाजार और सड़कों पर चलने वाले राहगीरों की जान को भी नुकसान पहुंच सकता है. चप्पे-चप्पे पर पुलिस की तैनाती के बावजूद पुलिस और प्रशासन के किसी अधिकारी की नजर इन पटाखों की दुकानों पर नहीं जा रही है.

वहीं लोगों का कहना है कि चिन्हित करने के बाद भी पटाखा दुकानों का यूं बीच चौराहे पर लगना पूरी तरह से गलत है. बावजूद इसके कार्रवाई न होने पर मामला शक के घेरे में आ गया है. लोगों का कहना है कि यहां विभिन्न चीजों की बाजार लगती है और ऐसे में जगह-जगह पटाखों की दुकान उनके लिए खतरा पैदा कर सकती हैं.

इधर, अग्निशमन अधिकारी रायसिंह राणा के मुताबिक शहर के पलटन बाजार, धामावाला बाजार, बैंड बाजार, मोती बाजार आदि बाजारों में पटाखा व्यपारियों को दुकान खोलने के लाइसेंस नहीं दिए गए हैं. शहर के तमाम भीड़ भाड़ वाले इलाकों में पटाखे लगाने पर पूरी तरह से रोक लगाई गई है. बावजूद इसके पटाखा दुकान लगाए जाने पर कानूनी कार्रवाई करने की बात कही है.

 

ये भी पढ़ें:- News Blog Live- पीएम मोदी पहुंचे देहरादून, दीवाली मनाने थोड़ी देर में जाएंगे केदारनाथ

ये भी देखें:- VIDEO: साइकिल से व‌र्ल्ड रिकार्ड बनाने निकला सेना का दल पहुंचा देहरादून
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर