होम /न्यूज /उत्तराखंड /कोरोना से डरें नहीं, सुरक्षित रहें... वीडियो संदेश से प्रवासियों की हिम्मत बंधा रहा है यह संक्रमित युवक

कोरोना से डरें नहीं, सुरक्षित रहें... वीडियो संदेश से प्रवासियों की हिम्मत बंधा रहा है यह संक्रमित युवक

अमन मुंबई के होटल आईटीसी मराठा में करीब छह साल से बतौर रिसेप्शनिस्ट काम कर रहे हैं.  संभवतः उन्हें वहीं इंफ़ेक्शन हुआ.

अमन मुंबई के होटल आईटीसी मराठा में करीब छह साल से बतौर रिसेप्शनिस्ट काम कर रहे हैं. संभवतः उन्हें वहीं इंफ़ेक्शन हुआ.

16 मई की आधी रात को अमन तिवारी की रिपोर्ट पॉज़िटिव आई थी और फिर उन्हें परिवार के साथ आइसोलेट कर दिया गया.

ऋषिकेश. अमन तिवारी मुंबई से अपने घर ऋषिकेश पहुंचे तो वह अकेले नहीं थे. जिस कोरोना वायरस, कोविड-19, से बचने के लिए वह मुंबई से अपने घर वापस लौटे उसने उनका पीछा नहीं छोड़ा और बीते रविवार को उनकी कोविड-19 रिपोर्ट पॉजिटिव आई. ऋषिकेश एम्स से आए फ़ोन ने अमन को हिलाकर रख दिया. अमन सहित उनके पूरे परिवार को आइसोलेट कर दिया गया. इस झटके से संभलने में उन्हें दो दिन लगे और अब वह नए जोश के साथ इस बीमारी से लड़ने के लिए तैयार हैं. एम्स से ही अमन वीडियो संदेश के ज़रिए घर लौट रहे प्रवासी उत्तराखंडियों को सुरक्षा बरतने की सलाह दे रहे हैं और हिम्मत बढ़ा रहे हैं.

होटल में हुआ इंफ़ेक्शन

अमन मुंबई के होटल आईटीसी मराठा में करीब छह साल से बतौर रिसेप्शनिस्ट काम कर रहे हैं. बीती 14 मई को वह वहां से अपने घर आशुतोष नगर, ऋषिकेश लौटे. तब से वह होम क्वारंटीन थे. स्वास्थ्य खराब होने पर 16 मई शनिवार को उनका सैंपल लिया गया जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई.

दरअसल अमन जिस होटल में काम करता है उसमें कुछ पॉज़िटिव मामले सामने आए थे. अमन के अनुसार काम करने के दौरान उनका भी कोविड परीक्षण किया गया था जिसमें रिपोर्ट नेगेटिव आई थी. इसके बाद उन्हें लगा कि बचना है तो घर लौटना बेहतर रहेगा.

जल्द स्वस्थ हों, जि़ंदगी जियें 

घर लौटकर होम क्वारंटाइन में अमन को स्वास्थ्य संबंधी दिक्कत होने पर वह स्वयं एम्स ऋषिकेश की कोविड स्क्रीनिंग ओपीडी में शनिवार को परीक्षण के लिए पहुंच गए. वहां कोविड के मद्देनजर उसके रक्त का नमूना लिया गया. 16 मई की आधी रात को उनकी रिपोर्ट आई थी और फिर उन्हें परिवार के साथ आइसोलेट कर दिया गया.

अमन जानते हैं कि इस जंग में वह अकेले नहीं हैं इसलिए उन्होंने अन्य राज्यों से घर वापसी कर रहे अपने जैसे उत्तराखंड प्रवासियों की हिम्मत बंधानी शुरु कर दी है. वीडियो संदेश जारी कर वह अपील कर रहे हैं कि कोराना से डरे नहीं और हिम्मत के साथ डॉक्टरी सलाह के साथ काम करें ताकि यह वयरस दूसरों तक न पहुंचे. अगर आप संक्रमित हैं तो घबराएं नहीं जल्द से जल्द स्वस्थ होकर अपनों के बीच पहुंचे और जिंदगी को जियें.

Tags: Coronavirus in India, COVID-19 infected, Lockdown. Covid 19, Rishikesh news, Uttarakhand news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें