यह है दून अस्पतालः पड़े-पड़े ख़राब हो गई मैमोग्राफ़ी मशीन, लगा है कचरे का ढेर

दून मेडिकल कॉलेज, अस्पताल के प्राचार्य डॉक्टर भारती गुप्ता कहते हैं कि मैमोग्राफी मशीन को आईआरबी में रजिस्ट्रेशन नहीं होने के कारण बंद करना पड़ा था.

News18 Uttarakhand
Updated: September 7, 2018, 3:55 PM IST
यह है दून अस्पतालः पड़े-पड़े ख़राब हो गई मैमोग्राफ़ी मशीन, लगा है कचरे का ढेर
दून अस्पताल में कचरा यहां खुले में पड़ा है और लाखों की मशीनें बिना इस्तेमाल के ही कंडम हो गई हैं.
News18 Uttarakhand
Updated: September 7, 2018, 3:55 PM IST
राजधानी का सबसे बड़ा सरकारी अस्पताल दून हॉस्पिटल अधिकारियों की आपसी जंग की वजह से खुद ही आईसीयू में पहुंच गया है. ऐसा लगता है कि स्वच्छ भारत, स्वस्थ भारत का नारा यहां तक पहुंचा ही नहीं है. कचरा यहां खुले में पड़ा है. लाखों की मशीनें बिना इस्तेमाल के ही कंडम हो गई हैं और मरीज़ धक्के खा रहे हैं. कमाल की बात यह है कि यह स्थिति दून मेडिकल कॉलेज बनने के बाद से ही बनी हुई है और इस समस्या का कोई हल नज़र नहीं आ रहा.

दून चिकित्सालय में अव्यवस्थाओं का अम्बार लगा हुआ है. अस्पताल परिसर में कचरे का ढेर ही चिकित्सालय की बदहाली को बयां करने के लिए काफी है. यहां टूटा फ़र्नीचर जमा होता जाता है और उसे ठिकाने लगाने की जैसे कोई व्यवस्था ही नहीं है.

दून अस्पताल के रूम नंबर 127 में रखी मैमोग्राफ़ी मशीन का रजिस्ट्रेशन न होने की वजह से वह दो  साल से बंद पड़ी है और मरीज़ों को मैमोग्राफ़ी बाहर से करवानी पड़ती है. अस्पताल के मुकाबले बाहर इसकी लागत चार गुना तक आती है.

दून मेडिकल कॉलेज, अस्पताल के प्राचार्य डॉक्टर भारती गुप्ता कहते हैं कि मैमोग्राफी मशीन को आईआरबी में रजिस्ट्रेशन नहीं होने के कारण बंद करना पड़ा था. वह कहते हैं न यह मशीन अभी चल पा रही है और न ही भविष्य में चल पाएगी.

दून अस्पताल के सीएमएसस डॉक्टर केके टम्टा इस मशीन की दिक्कत को ज़्यादा अच्छे से बताते हैं. वह कहते हैं कि मशीन को ठीक करवाने की लागत नई मशीन से ज़्यादा है और इसलिए इसे ठीक नहीं करवाया जा रहा.

हालांकि न तो डॉक्टर टम्टा इस बारे में कुछ कहते हैं कि मैमोग्राफ़ी मशीन कब तक आ पाएगी और न ही डॉक्टर भारती इस बारे में कोई जानकारी देते हैं. ज़ाहिर है जब अस्पताल के कर्ता-धर्ताओं को ही कुछ पता नहीं है तो मरीज़ों को दून अस्पताल में भटकने को मजबूर होना पड़ेगा.

(सोनू सिंह की रिपोर्ट)

VIDEO: दून हॉस्पिटल पर दबाव कम करने के लिए दूसरे अस्पतालों में बढ़ेंगी सुविधाएं

VIDEO: दून अस्पताल की घटना पर सीएम ने स्वास्थ्य सचिव से मांगी रिपोर्ट
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर