उत्‍तराखंड: हर ब्लॉक में दो इंग्लिश मीडियम स्कूलों पर रिपोर्ट तलब, ट्रांसफर को लेकर भी बड़ा फैसला

शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने विभाग के अधिकारियों की बैठक में कई निर्देश दिए.
शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने विभाग के अधिकारियों की बैठक में कई निर्देश दिए.

शिक्षा मंत्री (Education Minister) ने विभागीय अधिकारियों के स्थानांतरण को 'विभागीय ट्रांसफर एक्ट' से बाहर करने के निर्देश भी दिए हैं.

  • Share this:
देहरादून. उत्तराखंड के स्कूली शिक्षा मंत्री प्रदेश के हर ब्लॉक में दो इंग्लिश मीडियम स्कूल खोलने के अपने ऐलान के प्रति संजीदा लग रहे हैं. बीते मंगलवार को इसका ऐलान करने के हफ़्ते भर के अंदर ही स्कूली शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने सोमवार को इस पर अधिकारियों की बैठक ली और इसके लिए काम तेज़ करने को कहा. इसके अलावा शिक्षा मंत्री ने ट्रांसफर को लेकर भी बड़ा ऐलान किया है. उन्होंने कहा कि शिक्षा विभाग में अधिकारियों स्‍थानांतरण विभागीय ट्रांसफर एक्ट से बाहर होंगे.

सबसे पहले बात हर ब्लॉक में दो इंग्लिश मीडियम स्कूल खोलने की तैयारियों को लेकर. बीते मंगलवार को शिक्षा मंत्री ने ऐलान किया था कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई के नाम पर हर ब्लॉक में दो इंग्लिश मीडियम स्कूल खोले जाएंगे. उन्होंने कहा था कि पहली से 12वीं तक के ये इंग्लिश मीडियम स्कूल सीबीएसई की तर्ज पर ही संचालित होंगे.

सोमवार को शिक्षा मंत्री ने शिक्षा अधिकारियों के साथ बैठक में इस योजना पर तुरंत काम करने का आदेश दिया. उन्होंने अधिकारियों से एक हफ्ते में पूरा ड्राफ़्ट तैयार कर रिपोर्ट देने को कहा है. उन्होंने कहा कि स्कूल के लिए ज़मीन, टीचर्स और स्कूलों को संचालित किए जाने की योजना पर एक रिपोर्ट तैयार की जाए.



अधिकारियों पर कार्रवाई की तैयारी
सचिवालय में शिक्षा विभाग के अधिकारियों के साथ ऑफ़लाइन और वर्चुअल मीटिंग में शिक्षा मंत्री ने कहा कि उन सभी अधिकारियों पर जल्द गाज गिर सकती है जो किसी न किसी मामले में आरोपों से घिरे रहे हैं. विभाग की समीक्षा बैठक में शिक्षा मंत्री ने ऐसे टीचर्स, अधिकारियों पर कार्रवाई के आदेश दिए जिनकी जांच पूरी हो चुकी है.



शिक्षा विभाग में साथ ही स्‍थानांतरण को लेकर भी शिक्षा मंत्री ने बड़ा फैसला लिया. उन्होंने कहा कि शिक्षा विभाग में अधिकारियों के तबादले विभागीय ट्रांसफर एक्ट से बाहर होंगे.

एक नज़र शिक्षा विभाग के बड़े फ़ैसलों पर
-सीबीएसई की तरह प्रदेश में कंटेंनमेंट ज़ोन के विद्यालयों का रिज़ल्ट जल्द घोषित करने और हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परिषदीय परीक्षा परिणामों भी जल्द घोषित करने के निर्देश दिए गए.

-प्रदेश में सीबीएसई के माध्यम से संचालित होने वाले इंग्लिश मीडियम के स्कूलों की रूपरेखा तैयार करने के निर्देश दिए गए.

-विभागीय अधिकारियों के स्थानांतरण को 'विभागीय ट्रांसफर एक्ट' से बाहर करने के निर्देश दिए.

-1 जुलाई से 31 जुलाई 2020 तक पर्यावरण संरक्षण और संवर्द्धन महीने के रूप में मनाया जाएगा. इसमें मंत्री प्रदेश भ्रमण कर, पौधारोपण कार्यक्रम में शिरकत करेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज