जब रेलवे ट्रैक पर आ जाते हैं हाथी, तो उन्‍हें भगा देती हैं ये 'मधुमक्खियां'

रेलवे विभाग ने राजाजी पार्क क्षेत्र में कांसरो समेत चार रेलवे स्टेशन पर 'हनी बी डिवाइस' लगा दी है. इस डिवाइस से मधुमक्खियों के भिनभिनाने की तेज आवाज निकलती है. इसे सुनकर हाथी भाग जाते हैं.

Sunil Navprabhat | News18 Uttarakhand
Updated: November 25, 2018, 1:44 PM IST
जब रेलवे ट्रैक पर आ जाते हैं हाथी, तो उन्‍हें भगा देती हैं ये 'मधुमक्खियां'
'हनी बी डिवाइस' से मधुमक्खियों के भिनभिनाने की तेज आवाज सुनकर हाथी भाग जाया करते हैं.
Sunil Navprabhat
Sunil Navprabhat | News18 Uttarakhand
Updated: November 25, 2018, 1:44 PM IST
उत्‍तराखंड में राजाजी टाइगर रिजर्व में हाथियों के लिए डेथ प्वाइंट बने रेलवे ट्रैक पर अब पार्क प्रशासन और रेलवे द्वारा संयुक्त रूप से किए जा रहे प्रयास रंग लाने लगे हैं. एशियाई हाथियों के लिए मशहूर राजाजी टाइगर रिजर्व के अंदर करीब बाईस किलोमीटर लंबा रेलवे ट्रैक गुजरता है. इस ट्रैक को पार करने के लिए अक्सर हाथियों का झुंड आवागमन करता रहता है.

ट्रैक पार करने के दौरान ही कई बार हाथियों का झुंड ट्रेन की चपेट में आ जाया करता है. पिछले तीन दशक में पार्क क्षेत्र में 27 से अधिक हाथियों की ट्रेन से कटकर मौत हो चुकी है. इस पर अब रेलवे विभाग ने पार्क क्षेत्र में कांसरो समेत चार रेलवे स्टेशन पर 'हनी बी डिवाइस' लगा दी है. इस डिवाइस से मधुमक्खियों के भिनभिनाने की तेज आवाज निकलती है. इसे सुनकर हाथी भाग जाते हैं.

दूसरी ओर राजाजी पार्क ने रेलवे ट्रैक के समानान्तर ट्रैक बनाकर नया प्रयोग किया है. इस ट्रैक पर ट्रेनों के शेड्यूल के अनुसार मोटरसाइकिल सवार वनकर्मी गश्त करते हैं. ट्रैक पर हाथियों के आने की सूरत में वनकर्मी वायरलेस से संबंंधित रेलवे स्टेशन को सूचना देते हैं. सूचना मिलते ही ट्रेन रोक दी जाती है.

वैसे योजना तो हाथियों के लिए कॉरीडोर बनाने की थी, लेकिन लागत अधिक होने के कारण योजना परवान नहीं चढ़ पाई. फिलहाल रेलवे और पार्क प्रशासन के इस संयुक्त प्रयोग को करीब एक माह का समय बीत चुका है. इस दौरान कोई अप्रिय घटना नहीं घटी है. बता दें कि 'हनी बी डिवाइस' का यह प्रयोग सबसे पहले असम में शुरू किया गया था. यह प्रयोग वहां सफल साबित हुआ.

ये भी पढ़ें - हड़ताल करने वाले कर्मचारियों को लेकर सरकार सख्‍त, बनाया ये नया नियम

ये भी पढ़ें - अपने साले को फंसाने के लिए मंदिर में रखा था गोमांस, साथी सहित गिरफ्तार
First published: November 25, 2018, 12:20 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...