कोरोना से जंग लड़ने थानों में पुलिस जवानों की भी एंट्री बैन, अब ऐसे शिकायत कर रहे फरियादी
Dehradun News in Hindi

कोरोना से जंग लड़ने थानों में पुलिस जवानों की भी एंट्री बैन, अब ऐसे शिकायत कर रहे फरियादी
उत्तराखंड (Uttarakhand) की राजधानी देहरादून (Dehradun) में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण (Corona Infection) के मामलों को देखते हुए अब थाने-चौकियों के दरवाजे जनता और फील्ड ड्यूटी वाले पुलीस जवानों के लिए बन्द कर दिए गए हैं.

उत्तराखंड (Uttarakhand) की राजधानी देहरादून (Dehradun) में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण (Corona Infection) के मामलों को देखते हुए अब थाने-चौकियों के दरवाजे जनता और फील्ड ड्यूटी वाले पुलीस जवानों के लिए बन्द कर दिए गए हैं.

  • Share this:
देहरादून. उत्तराखंड (Uttarakhand) की राजधानी देहरादून (Dehradun) में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण (Corona Infection) के मामलों को देखते हुए अब थाने-चौकियों के दरवाजे जनता और फील्ड ड्यूटी वाले पुलीस जवानों के लिए बन्द कर दिए गए हैं. अब देहरादून के पुलिस थानों के अंदर किसी फरियादी को जाने की इजाजत नहीं है. थाने के अंदर केवल तभी जाएगा कोई व्यक्ति जब किसी को हवालात की हवा खानी हो. दरअसल, देहरादून में लगातार बढ़ रहे कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों की संख्या को देखते हुए डीआईजी अरुण मोहन जोशी ने सभी थाना चौकी इंचार्जों को आदेश दिया है कि जब तक स्थितियां काबू में ना आए तब तक सभी थाना चौकी के मेन गेट बंद रहेंगे.

आदेश के मुताबिक कोई भी व्यक्ति मदद के लिए पहुंचे तो उनके लिए गेट से ही हेल्प डेस्क के माध्यम से उनकी मदद की जाए. साथ ही यह भी निर्देश जारी किए गए हैं कि किसी भी अपराधी को पकड़ने के लिए जो भी पुलिस की टीम जाएगी उसके पास कोरोना वायरस से बचने वेल एक्यूमेंट होने अति आवश्यक हैं.

क्यूआर टीम गठित
डीआईजी अरुण मोहन जोशी ने सभी थानों में एक क्यू आर टी टीम का गठन किया है. दावा किया जा रहा है कि ये टीम किसी भी घटना के समय फर्स्ट रेस्पॉन्डिंग का काम करेगी और टीम के बाद कोरोना संक्रमण से लड़ने के लिए हर प्रकार के उपकरण मौजूद होंगे. थाने चौकियों के मुख्य द्वार बन्द होने के बाद अब सभी थानों चौकियों के गेट पर हेल्प डेस्क बनाई गई है. कोई भी व्यक्ति थाने में पहुंचता है तो हेल्प डेस्क गेट पर ही उनकी समस्याओं का समाधान करती है. और किसी भी आपराधिक घटना की सूचना पर घटना स्थल पर पहले ओआरटी टीम पहुंचेगी और अपराधी को हवालात में ढालने से पहले भी पूरे एतिहात बरतेगी. साथ ही किसी भी घटना पर थाने या चौकी से पुलिस की जरूरत महसूस हो तो जो भी पुलिस के जवान पूरे एतिहात के साथ ही घटना स्थल पर पहुंचेगे.
ये भी पढ़ें: करीबी दोस्त से धुर विरोधी तक! पढ़ें लालू-नीतीश की फ्रेंडशिप की अनटोल्ड स्टोरी



इन 21 थानों के मेन गेट बंद
देहरादून जिले ने 21 थाने 46 चौकियां  जिनका मेंन गेट फिलहाल के लिए बंद हुआ है. एसओ रायपुर अमरजीत सिंह रावत का कहना है कि डीआईजी अरुण मोहन जोशी द्वारा की गई इस व्यवस्था से आम जनता के साथ पुलिस के जवान भी संक्रमण से दूर रहेंगे. हेल्प डेस्क से आम जनता की मदद की जा रही है. आम जनता को अपनी शिकायत करने में किसी भी प्रकार से परेशानी नहीं हो रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading