Home /News /uttarakhand /

Farm Laws Repeal : 700 किसानों की मौत कारण सरकार के रवैये को बताया, AAP ने केंद्र से की बड़ी मांग

Farm Laws Repeal : 700 किसानों की मौत कारण सरकार के रवैये को बताया, AAP ने केंद्र से की बड़ी मांग

उत्तराखंड चुनाव में आप के सीएम कैंडिडेट कर्नल कोठियाल.

उत्तराखंड चुनाव में आप के सीएम कैंडिडेट कर्नल कोठियाल.

Politics of Uttarakhand : पीएम मोदी (Narendra Modi) ने जबसे कहा है कि आगामी संसद सत्र में कृषि कानून वापस ले लिये जाएंगे, तबसे देश भर के साथ ही उत्तराखंड में भी सियासी प्रतिक्रियाओं (Political Comments) का दौर शुरू हो चुका है. कांग्रेस ने इसे सरकार की हार करार दिया था, तो उत्तराखंड में चुनावी (Uttarakhand Elections) ताल ठोक रही आम आदमी पार्टी अब इस मुद्दे पर आक्रामक तेवर दिखा रही है. आप के कर्नल को​ठियाल (Retd Colonel Ajay Kothiyal) ने 700 से ज्यादा किसानों के मारे जाने, उन्हें शहीद का दर्जा दिए जाने जैसे मुद्दे उठाकर उनके परिवारों के लिए बड़ी सहायता की मांग की है. पढ़िए पूरी रिपोर्ट.

अधिक पढ़ें ...

देहरादून. आम आदमी पार्टी के सीएम प्रत्याशी रिटायर्ड कर्नल अजय कोठियाल ने बयान जारी करते हुए कहा कि भारत के किसानों का आंदोलन दुनिया भर के लिए एक सफल और अ​हिंसक आंदोलन की मिसाल रहा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुक्रवार को राष्ट्र के नाम संदेश में तीनों विवादित कृषि कानूनों को वापस लिये जाने की घोषणा पर प्रतिक्रिया देते हुए कोठियाल ने केंद्र सरकार से मांग करते हुए कहा कि इस आंदोलन के दौरान जो 700 से ज़्यादा किसान मारे गए, सरकार उन्हें शहीद का दर्जा देकर उनके परिवारों को 1 करोड़ रुपये की सहायता दे. साथ ही, इन शहीदों के परिजनों को सरकारी नौकरी भी दी जाए. इसके अलावा कोठियाल ने अपने बयान में और भी बिंदु उठाए.

‘दुनिया में ऐसा शायद ही कभी हुआ हो’
कोठियाल ने बयान में कहा, ‘आज का दिन भारत के इतिहास में 15 अगस्त और 26 जनवरी की तरह लिखा जाएगा. आज लोकतंत्र की जीत हुई. किसानों ने सभी सरकारों को बता दिया कि जनतंत्र में सिर्फ और सिर्फ जनता ही मालिक होती है. भारत का ये किसान आंदोलन पूरी दुनिया के लिए एक सफल अहिंसक आंदोलन का सबूत है. पूरी दुनिया में इतना बड़ा और लंबा आंदोलन शायद ही कभी हुआ हो. लेकिन दुख है कि इस आंदोलन में 700 से ज्यादा किसानों की जान गई, अगर केंद्र सरकार पहले ही ये कानून वापस ले लेती तो उनकी जान बचाई जा सकती थी.’

aap bayan, aam aadmi party bayan, colonel kothiyal bayan, आम आदमी पार्टी बयान, कर्नल कोठियाल बयान, uttarakhand assembly election, कृषि कानून today updates, कांग्रेस, पीएम मोदी, किसान आंदोलन, New laws, farmers laws, farmers protests, Modi, Current Affairs, New farm laws, prime minister address to the nation, prime minister address on november 19 2021, guru nanak jayanti, Modi address to the nation, farm laws, three farm laws, three farm laws repealed, kisan andolan news, pm modi speech, pm modi bhashan, krishi kanoon vaapsi, pm modi speech on farm laws, किसान आंदोलन न्यूज़, पीएम मोदी भाषण, कृषि कानून वापस, कृषि कानून पर पीएम मोदी का भाषण, aaj ki taza khabar, UK news, UK news live today, UK news india, UK news today hindi, UK news english, Uttarakhand news, Uttarakhand Latest news, उत्तराखंड ताजा समाचार

कृषि कानून वापसी को किसानों की जीत बताकर आप कार्यकर्ताओं ने मिठाई बांटी.

कोठियाल ने कहा कि सर्द रातों में, तेज़ बारिश में, लाठी डंडों के बावजूद किसानोंं के अधिकार के लिए लड़े किसानों को सभी आप कार्यकर्ता नमन करते हैं. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि तानाशाही की वजह से जिन किसानों को अपने परिजनों को खोना पड़ा, सरकार को उन परिवारों से माफी भी मांगनी चाहिए. कोठियाल के मुताबिक इन मांगों को मानकर ही शहीद हुए किसानों को सच्ची श्रद्धांजलि दी जा सकती है.

‘देश याद रखेगा बीजेपी के अपशब्द’
कोठियाल ने किसानों के समर्थन और भाजपा के बयानों पर खेद जताते हुए कहा, ‘देश याद रखेगा कि कृषि कानूनों के खिलाफ एक बरस के आंदोलन के दौरान भाजपाइयों ने किसानों को आतंकी, खालिस्तानी, आंदोलन परजीवी, दलाल जैसी कई संज्ञाएं दीं और कृषि कानूनों को सही साबित करने के लिए तमाम कुतर्क दिए. आज चुनावों में अपनी हार भांपकर तीनों काले कानून को वापस लेने की घोषणा की.’

गौरतलब है कि कृषि कानून वापस लिये जाने के ऐलान के बाद से ही मिली जुली प्रतिक्रियाओं का दौर शुरू हो चुका है. एक तरफ किसानों में खुशी की लहर भी देखी गई तो दूसरी तरफ किसानों ने अविश्वास भी जताया. अब भी आंदोलनकारी किसानों का बड़ा वर्ग इस बात पर अड़ा हुआ है कि जब तक लिखित में कानून वापसी का आदेश नहीं मिलेगा, आंदोलन खत्म नहीं किया जाएगा.

Tags: Aam aadmi party, Ajay Kothiyal, Farm laws, Uttarakhand Assembly Election 2022, Uttarakhand news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर