Home /News /uttarakhand /

देहरादून की सड़कों पर अब महिला ड्राइवर चलाएंगी ऑटो

देहरादून की सड़कों पर अब महिला ड्राइवर चलाएंगी ऑटो

देहरादून की सड़कों पर अब महिला ड्राइवर्स यात्री वाहनों को चलाती नजर आएंगी. 30 महिलाओं को परिवहन विभाग की देखरेख में वाहन चलाने की ट्रेनिंग दी जा रही है. महिलाओं ने व्यावसायिक वाहनों को चलाने के लिए आरटीओ कार्यालय में ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आवेदन किया है.

देहरादून की सड़कों पर अब महिला ड्राइवर्स यात्री वाहनों को चलाती नजर आएंगी. 30 महिलाओं को परिवहन विभाग की देखरेख में वाहन चलाने की ट्रेनिंग दी जा रही है. महिलाओं ने व्यावसायिक वाहनों को चलाने के लिए आरटीओ कार्यालय में ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आवेदन किया है.

देहरादून की सड़कों पर अब महिला ड्राइवर्स यात्री वाहनों को चलाती नजर आएंगी. 30 महिलाओं को परिवहन विभाग की देखरेख में वाहन चलाने की ट्रेनिंग दी जा रही है. महिलाओं ने व्यावसायिक वाहनों को चलाने के लिए आरटीओ कार्यालय में ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आवेदन किया है.

अधिक पढ़ें ...
    उत्तराखंड की राजधानी देहरादून की सड़कों पर अब महिला ड्राइवर्स यात्री वाहनों को चलाती नजर आएंगी. बकायादा 30 महिलाओं को संभागीय परिवहन विभाग की देखरेख में वाहन चलाने की ट्रेनिंग दी जा रही है.

    15 महिलाओं ने व्यावसायिक वाहनों को चलाने के लिए आरटीओ कार्यालय में ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आवेदन किया है. प्रदेश सरकार महिलाओं को आर्थिक रूप से सबल बनाने के लिए एक विशेष योजना शुरू करने जा रही है, जिसमें महिलाओं को वाहन चलाने की ट्रेनिंग दी जा रही है.

    राज्य सरकार ने राजधानी देहरादून में निर्भया को- ऑपरेटिव सोसायटी का गठन किया है, जिसके तहत महिलाओं को वाहन चलाने का इंतजाम किया जा रहा है. पहले चरण में सरकार महिलाओं को सब्सिडी पर पांच वाहन उपलब्ध करा रही है.

    अप्रैल माह में पांच और वाहनों को उपलब्ध कराया जायेगा. सीडीओ आलोक पाण्डेय का कहना है कि इस योजना को लांच करने की तैयारी की जा रही है मुख्यमंत्री हरीश रावत इस योजना की लांचिंग करेंगे.

    गौरतलब है कि सरकार इस योजना को लागू करके महिलाओं की यात्रा को और सुरक्षित बनाने की कोशिश कर रही है. अधिकारियों का कहना है कि कामकाजी महिलाओं, छात्राओं और सैलानियों को एक महफूज यात्रा करने का माहौल मिलेगा.

    उनका कहना है कि महिला ड्राइवर्स महिलाओं और स्कूली छात्राओं को लाने ले जाने का काम करेंगी राजधानी देहरादून में यूं तो 784 विक्रम वाहनों का संचालन हो रही है.

    पांच से अधिक ऑटो और इतने ही सिटी बसों का संचालन किया जा रहा है. मगर सरकार की मंशा है कि महिला सशक्तिकरण की विचारधारा को और मजबूत किया जाए इसके लिए बकायदा सरकार एक योजना को लागू करना चाहित है, जिससे महिलाओं को महफूज यात्रा का मौका मिल सके.

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर