लाइव टीवी

अगले महीने से आईकार्ड पहने नज़र आएंगे उत्तराखंड के सरकारी स्कूलों के शिक्षक

Bharti Saklani | News18 Uttarakhand
Updated: November 21, 2019, 6:17 PM IST
अगले महीने से आईकार्ड पहने नज़र आएंगे उत्तराखंड के सरकारी स्कूलों के शिक्षक
उत्तराखंड के सरकारी स्कूलों के शिक्षकों को अगले महीने से आईकार्ड पहनना होगा. (फ़ाइल फ़ोटो)

शिक्षकों के आईकार्ड (I-card for teachers) के लिए केन्द्र सरकार ने 18 लाख रुपये का बजट भी जारी कर दिया है. हर टीचर के आई कार्ड के लिए 50 रुपये भेजे गए हैं.

  • Share this:
देहरादून. मंत्री बनते ही शिक्षा मंत्री अरविंद पाण्डेय (Education Minister Arvind Pandey) ने शिक्षकों के लिए ड्रेसकोड (dress code for teachers) लागू करने का फ़रमान जारी कर दिया था लैकिन इस पर जमकर हो हल्ला हुआ था. आखिरकार शिक्षकों के दबाव के आगे शिक्षा मंत्री को झुकना पड़ा और ड्रेस कोड लागू नहीं हो सका. इसके बाद शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे स्मार्टफ़ोन (smart phone ) से जिओलोकेशन (gio-locaiton) के ज़रिए हाजिरी लगाने की योजना लेकर आए और यह भी लागू नहीं हो पाई. अब प्रदेश के शिक्षकों के लिए आई कार्ड अनिवार्य किए जा रहे हैं और इस योजना को अगले महीने से लागू होना ही है क्योंकि यह केन्द्र सरकार का फ़ैसला है.

हर आई-कार्ड के लिए 50 रुपये

भले ही ड्रेस कोड के लिए शिक्षकों ने हंगामा किया और सरकार बैकफुट पर भी आई लेकिन आई कार्ड के लेकर यह विरोध भी नज़र नहीं आ रहा है. शायद शिक्षक भी जानते हैं कि इस बार विरोध का कोई फ़ायदा नहीं होने वाला.

शिक्षकों के आईकार्ड के लिए केन्द्र सरकार ने 18 लाख रुपये का बजट भी जारी कर दिया है. हर टीचर के आई कार्ड के लिए 50 रुपये भेजे गए हैं. इन बायोमैट्रिक्स आई कार्डों में शिक्षक का नाम, स्कूल का नाम, पदनाम और एम्पलॉय कोड लिखा होगा ताकि टीचर की जानकारी कोड के ज़रिए आसानी से मिल सके.

बहुत कुछ किया जाना बाकी

उत्तराखंड के प्राइमरी और माध्यमिक स्कूलों के 36000 शिक्षक अगले महीने से आईकार्ड पहने दिखने लगेंगे. शिक्षा व्यवस्था को पटरी में लाने की यह एक महत्वपूर्ण पहल है हालांकि सरकारी स्कूलों का स्तर सुधारने के लिए अभी बहुत कुछ किया जाना है.

ख़ास बात यह है कि अभी तक सरकारी स्कूलों के छात्रों के पास भी आईकार्ड नहीं हैं और इनसे भी ज़रूरी चीज़ों का इंतज़ाम किया जाना ज़रूरी है जैसे कि स्कूल भवन, फ़र्नीचर, ब्लैक बोर्ड और पढ़ाने के लिए शिक्षकों को सुनिश्चित किया जाना.
Loading...

शिक्षकों को आई कार्ड के फैसले को लेकर आपत्ति होना शुरू हो गई ..वैसे आपको बताये कि उत्तराखण्ड में शिक्षकों ड्रेस कोड को लेकर तो आंदोलन कर चुके है मगर आई कार्ड के फरमान के आगे वो मजबूर है और न चाहते हुए भी उन्हे इस आई कार्ड को स्कूल में डालकर आना ही होगा.

ये भी देखें: 

अब शिक्षा विभाग में अनिवार्य सेवा निवृत्ति की तैयारी... 5000 से ज़्यादा शिक्षकों की होगी छुट्टी

पहाड़ों के बजाय UP, बिहार में नौकरी कर रहे हैं उत्तराखंड के कई शिक्षक: शिक्षा मंत्री

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देहरादून से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 21, 2019, 6:09 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...