Home /News /uttarakhand /

वो दिन जब जमकर थिरके थे जनरल बिपिन रावत, अब याद कर सबकी आंखें हो रहीं नम, देखें Exclusive Video

वो दिन जब जमकर थिरके थे जनरल बिपिन रावत, अब याद कर सबकी आंखें हो रहीं नम, देखें Exclusive Video

CDS bipin rawat : जनरल रावत उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल जिले के एक गांव के निवासी हैं.

CDS bipin rawat : जनरल रावत उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल जिले के एक गांव के निवासी हैं.

RIP General Bipin Rawat: भारत के पहले सीडीएस बिपिन रावत की मौत की खबर से हर कोई स्तब्ध है. बिपिन रावत का एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है, जिसमें वे एक समारोह में खुशी से नाचते दिखाई दे रहे हैं. उनका यह वीडियो देखकर कोई भी अपने आंसू नहीं रोक पा रहा है.

अधिक पढ़ें ...

    देहरादून. भारत के पहले सीडीएस बिपिन रावत की हैलीकॉप्टर क्रैश में हुए निधन की बात पर अब तक लोग यकीन नहीं कर पा रहे हैं. पूरे देश में इस समय हर कोई उनकी मृत्यु की खबर पर शोक व्यक्त कर रहा है. ऐसे में हाल ही सोशल मीडिया पर सीडीएस बिपिन रावत का एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें वे एक समारोह में दिखाई दे रहे हैं. इस समारोह में वे हंसते मुस्कुराते नाचते दिखाई दे रहे हैं. उनक यह वीडियो देखकर हर कोई हंसमुख स्वभाव के बिपिन रावत को देखकर अपने आंसू नहीं रोक पा रहा है. उनका यह वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है. वीडियो देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि बिपिन रावत कितने खुशमिजाज थे और हर पल को वह एंजॉय करते थे.

    गौरतलब है कि बुधवार को तमिलनाडु के कुन्नूर में करीब 12 बजकर 20 मिनट पर बिपिन रावत का हेलिकॉप्टर क्रैश हो गया था. इस दौरान उनकी पत्नी मधुलिका रावत भी उनके साथ थीं. हादसे में पति पत्नी सहित 13 लोगों की मौत हो गई. दोपहर बाद से इस खबर से देश का हर नागरिक बेहद दुखी है.

    मौके पर मौजूद चश्मदीदों के अनुसार हादसा होने से पूर्व काफी तेज आवाज सुनाई दी थी. पहले हैलीकॉप्टर पेड़ों पर गिरा और फिर उसमें आग लग गई. आग काफी भयंकर थी. एक चश्मदीद के अनुसार उसने हैलीकॉप्टर में से जलते हुए लोगों को गिरते ​देखा था. दरअसल बिपिन रावत कुन्नूर में एक कार्यक्रम में शिरकत करने के बाद वापस सुलूर लौट रहे थे. हादसे की वजह खराब मौसम बताया जा रहा है.

    मिले हैं कई सम्मान
    बिपिन रावत लेफ्टिनेंट जनरल लक्ष्मण सिंह रावत के बेटे थे और उनका जन्म पौड़ी गढ़वाल में हुआ था. दिसम्बर 1978 में उन्हें भारतीय सैन्य अकादमी, देहरादून से 11वें गोरखा राइफल्स की 5वीं बटालियन में नियुक्त किया गया था. यहां उन्हें स्वॉर्ड ऑफ ऑनर से सम्मानित किया गया था. सीडीएस बनने से पूर्व बिपिन रावत 27वें थल सेनाध्यक्ष रहे थे. इससे पहले आर्मी चीफ बनाए जाने से पहले 2016 में उप सेना प्रमुख नियुक्त किया गया था. आतंकवाद विरोधी अभियानों को लेकर उनका काफी लम्बा अनुभव था और अपनी विशिष्ट सेवाओं को लेकर उन्हें कई बड़े सम्मान मिल चुके थे.

    Tags: CDS, Cds bipin rawat, Cds bipin rawat death, Dehradun news, Viral video

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर