लाइव टीवी

 राजभवन ने लगाई चार धाम देवस्थानम बिल पर मुहर, अब नए एक्ट से संचालित होगी यात्रा

Sunil Navprabhat | News18 Uttarakhand
Updated: January 14, 2020, 3:15 PM IST
 राजभवन ने लगाई चार धाम देवस्थानम बिल पर मुहर, अब नए एक्ट से संचालित होगी यात्रा
इस सत्र से चार धाम यात्रा नए कानून से संचालित होगी.

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि इस यात्रा सीजन में जब चारों धामों के कपाट खुलेंगे तो यात्रा व्यवस्थाओं में परिवर्तन नज़र आएगा.

  • Share this:
देहरादून. आखिर वही हुआ जो सरकार ने चाहा. पंडा पुरोहितों के पुरज़ोर विरोध के बावजूद आखिरकार चारधाम देवस्थानम एक्ट अस्तित्व में आ गया. गंगोत्री, यमुनोत्री, बदरीनाथ, केदारनाथ समेत 51 मंदिरों के लिए सरकार शीतकालीन सत्र में देवस्थानम बिल लेकर आई. दिसंबर में विधानसभा से पास इस बिल पर राजभवन ने मुहर लगा दी है. इस बार की चारधाम यात्रा अब नए एक्ट के तहत ही संचालित होगी. पंडा-पुरोहितों के देहरादून से उत्तरकाशी तक विरोध से सरकार को कोई फ़र्क नहीं पड़ा.

व्यवस्था में दिखेगा परिवर्तन 

राजभवन की मुहर लग जाने से एक्ट अस्तित्व में आ गया है और इसी के साथ यह भी तय हो गया है कि इस बार की यात्रा इसी एक्ट के प्रावधानों के तहत सरकार के नेतृत्व में संचालित होगी. मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि इस यात्रा सीजन में जब चारों धामों के कपाट खुलेंगे तो यात्रा व्यवस्थाओं में परिवर्तन नज़र आएगा.

हालांकि, सरकार के लिए अभी चुनौतियां बहुत हैं. पंडा-पुरोहितों के साथ बने गतिरोध को समाप्त करना सबसे बड़ी चुनौती है. इसके साथ ही यात्रियों की बड़ी उम्मीदों पर भी उसे खरा उतरना होगा और उन दावों को सच कर दिखाना होगा जो उसने किए हैं.

नई चुनौतियां 

एक्ट को पूरी तरह धरातल पर उतारने में अभी लंबा वक्त लगेगा. सरकार को देवस्थानम बोर्ड भी बनाना होगा तो कई अन्य ज़रूरी प्रक्रियाएं भी पूरे करनी होंगी. सड़क, बिजली, पानी की व्यवस्थाएं तो पहले भी सरकार ही करती रही है लेकिन पंडा पुरोहितों के बीच सामंजस्य बैठाने और बढ़ी हुई उम्मीदों पर खरा उतरने की चुनौती उसके लिए नई है.

ये भी देखें: नाम बदल चार धाम देवस्थानम (श्राइन) बोर्ड विधेयक पारित, विधानसभा अनिश्चितकाल के लिए स्थगित

चार धाम श्राइन बोर्ड विधेयक से ये आशंकाएं हैं तीर्थ पुरोहित और हक-हकूकधारियों को

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देहरादून से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 14, 2020, 3:08 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर