Home /News /uttarakhand /

Uttarakhand Politics : हरक सिंह का बड़ा बयान, 'रात गई बात गई... बड़े भाई हरीश रावत से सौ बार माफी मांगता हूं'

Uttarakhand Politics : हरक सिंह का बड़ा बयान, 'रात गई बात गई... बड़े भाई हरीश रावत से सौ बार माफी मांगता हूं'

हरक सिंह रावत ने कांग्रेस वापसी पर बड़ा बयान दिया.

हरक सिंह रावत ने कांग्रेस वापसी पर बड़ा बयान दिया.

Uttarakhand Election 2022 : बीजेपी सरकार (Pushkar Dhami Govt) में कैबिनेट मंत्री रह चुके हरक सिंह रावत कांग्रेस में वापसी का इंतज़ार कर रहे हैं. फ़िलहाल उनकी वापसी को लेकर सस्पेंस बन गया है क्योंकि माना जा रहा था कि मंगलवार को वह पार्टी जॉइन (Harak Singh Joining Congress) कर लेंगे लेकिन खबर आई कि आज ऐसा होने की उम्मीद नहीं है. कांग्रेस कैंपेन कमेटी के प्रमुख हरीश रावत उनसे नाराज़ चल रहे हैं. इन तमाम मुद्दों पर हरक सिंह ने खुलकर News18 से बात की. अपनी बहू अनुकृति गुसाईं (Anukriti Gosain) को लेकर कहा कि वह सामाजिक कार्यकर्ता हैं और उनका पूरा परिवार कांग्रेस के साथ है.

अधिक पढ़ें ...

प्रियंका
देहरादून. ‘मैं अपने बड़े भाई से सौ बार माफी मांगता हूं, उत्तराखंड के हित के लिए सौ बार क्या एक लाख बार भी माफी मांगनी पड़े, तो मांग लूंगा.’ यह बात भाजपा से निष्कासित हरक सिंह रावत ने कांग्रेस में वापसी करने को लेकर चल रहे घटनाक्रम और पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के बयान पर कही. उन्होंने यह भी कहा कि 2016 में जो कुछ हुआ, वह पुरानी बात है, तब उनसे और हरीश रावत दोनों से कुछ गलतियां हुई थीं, जिनके कारण जो हुआ, सो हुआ. हरक सिंह ने दावा किया कि कांग्रेस के भीतर तमाम बड़े नेताओं के साथ उनकी बातचीत हो चुकी है और सभी का सकारात्मक रवैया रहा है.

‘मैंने कांग्रेस में आने का इतना बड़ा निर्णय लिया है, इससे बड़ी माफ़ी क्या हो सकती है? तब दोनों की गलती थी और अब सबसे ही बात होगी.’ हरक सिंह ने न्यूज़18 के साथ बेबाक बातचीत में कांग्रेस जॉइन करने को लेकर चल रहे ताज़ा घटनाक्रम पर कहा कि ‘कल से समय नहीं मिला. आज सुबह से पार्टी में सबसे बातचीत हुई है और सबका रवैया सकारात्मक है. प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल से बातचीत हुई है, वह आलाकमान से आगे बात करके बताएंगे. जैसी भी स्थिति बनेगी, उसके हिसाब से ही आगे के फैसले होंगे.’

हरीश रावत पर क्या बोले हरक सिंह?
हरक सिंह ने कहा, 2016 की बात बहुत पुरानी हो गई. उस समय परिस्थितियां अलग थीं, जो बात हो गई हो गई. हरीश भाई भी मानते हैं कि परिस्थितियां ही निर्णय का आधार बन जाती हैं. कुछ गलतियां मुझसे हुईं, कुछ हरीश भाई से हुईं. जो बातचीत हरीश भाई से हुई थी, उस पर वो इम्पलीमेंट नहीं कर पाए थे. यह भी सही है कि मैंने तब जिन विकास के कामों के लिए बात की, उन्होंने उस वक्त वो सब किए.

हरीश रावत के साथ निजी संबंधों और राजनीतिक संबंधों को लेकर हरक सिंह ने इमोशनल बातें करते हुए यह भी कहा, ‘मैंने हमेशा कहा कि उनके और मेरे अच्छे संबंध हैं. वह उत्तराखंड के बड़े नेता हैं. हम लोग दुख में हमेशा एक दूसरे के साथ खड़े हुए हैं. मेरे बेटे की शादी में बारात देर से पहुंची थी तब वह तीन घंटे तक इंतजार करते रहे. मैं व्यक्तिगत संबंधों को कभी राजनीति के आड़े नहीं आने देता हूं.’

Tags: Harak singh rawat, Harish rawat, Uttarakhand Assembly Election

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर