Home /News /uttarakhand /

Politics of Uttarakhand : '15 दिन में देखिए कांग्रेस का क्या हाल होगा', विजय बहुगुणा ने ये कहा तो हरक सिंह ने भी ली चुटकी

Politics of Uttarakhand : '15 दिन में देखिए कांग्रेस का क्या हाल होगा', विजय बहुगुणा ने ये कहा तो हरक सिंह ने भी ली चुटकी

पूर्व सीएम विजय बहुगुणा और कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत.

पूर्व सीएम विजय बहुगुणा और कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत.

Uttarakhand Election 2022 : उत्तराखंड विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) से पहले भाजपा और कांग्रेस के बीच दलबदल के समीकरणों की राजनीति तेज़ हो चुकी है. हरक सिंह रावत को 'मैनेज' करने के लिए उत्तराखंड पहुंचे पूर्व सीएम विजय बहुगुणा ने हरक सिंह समेत कई विधायकों और मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी (Pushkar Singh Dhami) से मुलाकात की. पूर्व सीएम हरीश रावत (Harish Rawat) की बड़ी बातों पर कटाक्ष करते हुए कहा कि 'वो यही बता दें कि खुद कहां से चुनाव लड़ रहे हैं!' बहरहाल, इन तमाम बातों के बीच कुछ बड़े बयान और संकेत बहुगुणा और हरक सिंह के बयानों से मिले. देखिए.

अधिक पढ़ें ...

    देहरादून. पुष्कर सिंह धामी सरकार में कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत को साधने के लिए उत्तराखंड बीजेपी ही नहीं, बल्कि बीजेपी की राष्ट्रीय कमान भी भरसक कोशिश कर रही है. बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक पिछले दो हफ्तों में दो से ज़्यादा बार हरक सिंह रावत के साथ मुलाकात कर चुके थे, लेकिन हरक सिंह के विडंबनापूर्ण बयानों के जारी रहने के बाद राज्य की राजनीति में पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा ने दिल्ली से सीधे देहरादून की उड़ान भरी. हरक सिंह समेत उन 9 नेताओं के साथ मुलाकात की, जो उनके साथ पांच साल पहले कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए थे, लेकिन लौटते हुए बहुगुणा एक बड़ा बयान देने से नहीं चूके.

    बहुगुणा के ‘बहुअर्थी’ बोल
    विजय बहुगुणा ने साफ शब्दों में कहा कि उत्तराखंड की राजनीति में कांग्रेस का अंजाम क्या होगा, यह स्थिति सिर्फ 15 दिनों के भीतर साफ हो जाएगी. बहुगुणा ने हरीश रावत पर भी तंज़ कसने में कसर नहीं छोड़ी. उन्होंने कहा, ‘मैं खुद कह रहा हूं कि हरीश रावत मेरे दोस्त हैं, अच्छे आदमी हैं, लेकिन अनर्गल बातें कर रहे हैं. भाजपा के भीतर सब ठीक है, कांग्रेस कोई विकल्प नहीं है. हरीश रावत जी इस भ्रम में हैं कि वो कोई लहर ला रहे हैं. ऐसा न हो कि वह खुद अपनी उसी लहर में डूब जाएं’

    वास्तव में, बहुगुणा ने यह प्र​तिक्रिया पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के उस बयान पर दी, जिसमें उन्होंने कहा था कि भाजपा के कई नेता कांग्रेस में आना चाहते हैं. स्थिति यह है कि भाजपा में भगदड़ मचने वाली है. इस तरह की किसी भी स्थिति से बहुगुणा ने साफ तौर पर इनकार किया, जैसा कि अन्य बीजेपी नेता पहले भी कर चुके हैं.

    हरक सिंह ने फिर दिखाई अपनी ‘हनक’
    हाल में, न्यूज़18 को दिए हरक सिंह के उस बयान के बाद उत्तराखंड में दलबदल को लेकर अटकलें और सियासी हलचलें बढ़ गईं, जिसमें उन्होंने कहा था कि भाजपा सरकार में अपने पांच साल के कार्यकाल को लेकर संतुष्ट नहीं हैं. उनके इस बयान के बाद ही बहुगुणा को उत्तराखंड आकर मुलाकातें करनी पड़ीं. इस पूरे राजनीतिक घटनाक्रम के बाद हरक सिंह ने न्यूज़18 को एक और बयान दिया, जिसके कई सियासी मायने निकलते नज़र आ रहे हैं.

    उन्होंने कहा, ‘जब कोई टीम मैदान में उतरती है, तो कौन हारना चाहता है. सभी जीतने के लिए खेलते हैं. खास तौर पर कप्तान तो जीत चाहता ही है.’ अब इस बयान की टाइमिंग यह है कि बहुगुणा से बुधवार को उनकी मुलाकात हुई और फिर बहुगुणा व सीएम धामी की मीटिंग हुई, उसके बाद हरक सिंह ने यह बात कही.

    Tags: Harak singh rawat, Uttarakhand Assembly Election 2022, Uttarakhand news, Uttarakhand politics

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर