लाइव टीवी
Elec-widget

हरक सिंह के बयान से खलबली... BJP ने कहा नहीं देने चाहिए ऐसे बयान, कांग्रेस ने कहा- बेचैन हैं हरक

Deepankar Bhatt | News18 Uttarakhand
Updated: November 13, 2019, 3:25 PM IST
हरक सिंह के बयान से खलबली... BJP ने कहा नहीं देने चाहिए ऐसे बयान, कांग्रेस ने कहा- बेचैन हैं हरक
हरक सिंह रावत ने कहा कि उत्तराखंड में मुद्दों की कमी नहीं लेकिन विपक्ष यानी कांग्रेस ये मुद्दे उठा नहीं पा रही है.

कांग्रेस नेताओं का कहना है कि सरकार में हरक सिंह को पूछा नहीं जा रहा, इसलिए वह विपक्ष के नेता बनना चाहते हैं.

  • Share this:
देहरादून. एक के बाद एक चुनाव परिणाम के बाद जो बात राजनीतिक विश्लेषक कह रहे थे वह पूर्व कांग्रेसी (Ex congressman) और वर्तमान में बीजेपी नेता हरक सिंह रावत (BJP Leader Harak Singh Rawat) ने भी कह दी है. हरक सिंह रावत ने कहा कि उत्तराखंड में मुद्दों की कमी नहीं लेकिन विपक्ष यानी कांग्रेस ये मुद्दे उठा नहीं पा रही है. अब कांग्रेस मुद्दों को ठीक से उठा नहीं पा रही इस बात की चिंता कांग्रेस नेताओं से ज्यादा कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत को क्यों है? इस बात को बीजेपी और कांग्रेस दोनों ही पचा नहीं पा रहे हैं.

विपक्ष को बैठे-बिठाए मिला मुद्दा 

सरकार कोई भी हो हरक सिंह रावत अपनी ही सरकारों के लिए मुश्किलें खड़ी करते रहे हैं. 2016 में हरीश रावत से संबंध बिगड़े तो कांग्रेस छोड़ दी और अब बीजेपी में भी फिट नहीं बैठ रहे. हरक सिंह रावत अब सरकार में बैठकर विपक्ष को यह बता रहे हैं कैसे मुद्दे उठाने चाहिएं.

हरक सिंह रावत का यह बयान बीजेपी के गले नहीं उतर रहा. पार्टी महामंत्री खजान दास कहते हैं कि किसी भी नेता को ऐसे बयान देने से बचना चाहिए जिससे पार्टी असहज हो. वह कहते हैं कि इससे विपक्ष को बैठे-बैठाए एक मुद्दा मिल गया है. खजानदास कहते हैं कि पार्टी हरक सिंह रावत के इस बयान के बारे में विचार करेगी.

इतनी बेचैनी ठीक नहीं 

बीजेपी अपने नेता से परेशान है तो कांग्रेस को भी हरक सिंह की बात समझ नहीं आ रही. कांग्रेस नेताओं का कहना है कि सरकार में हरक सिंह को पूछा नहीं जा रहा, इसलिए वह विपक्ष के नेता बनना चाहते हैं. कांग्रेस उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना कहते हैं कि यहां (कांग्रेस में) भी बेचैन, वहां (बीजेपी में) भी बेचैन. इतना बेचैन नहीं रहना चाहिए.

साफ है हरक सिंह रावत के बयान ने बीजेपी और कांग्रेस के सामने मुश्किल खड़ी कर दी है. 2016 के बाद से दोनों पार्टियों के बीच बने शांति और अपनी-अपनी भूमिका में रहने की सहमति वाले तालाब में हरक सिंह के बयान ने पत्थर फेंककर हलचल पैदा कर दी है.
Loading...

ये भी देखें: 

CBI जांच मामले में हरक सिंह रावत वापस ले सकते हैं अपनी याचिका

हरक सिंह रावत की वजह से CBI ने की FIR: किशोर उपाध्याय, कानून को अपना काम करने दें: CM 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देहरादून से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 13, 2019, 3:15 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...