Assembly Banner 2021

Haridwar Kumbh 2021: पहले शाही स्नान को लेकर प्रशासन चौकन्‍ना, अधिकारियों-कर्मचारियों के लिए खास निर्देश

11 मार्च को पहला शाही स्नान होगा.

11 मार्च को पहला शाही स्नान होगा.

हरिद्वार कुंभ (Haridwar Kumbh 2021) में 11 मार्च को होने वाले पहले शाही स्नान (Shahi Snan) को लेकर जिला प्रशासन खासा चौकन्‍ना है. इसके साथ जिलाधिकारी सी रविशंकर ने कहा कि प्रत्येक स्नान के पांच दिन बाद कुंभ डयूटी में लगे कर्मचारियों और अधिकारियों को कोविड-19 की आरटी-पीसीआर जांच करानी होगी.

  • Share this:
हरिद्वार. हरिद्वार कुंभ (Haridwar Kumbh 2021) में महाशिवरात्रि के अवसर पर 11 मार्च को होने वाले पहले शाही स्नान (Shahi Snan) और उसके बाद होने वाले हर स्नान के बाद ड्यूटी पर तैनात अधिकारियों और कर्मचारियों को अनिवार्य रूप से कोविड-19 की जांच करानी होगी. पहले शाही स्नान के लिए हरिद्वार में आयोजित समीक्षा बैठक में जिलाधिकारी सी रविशंकर ने कहा कि प्रत्येक स्नान के पांच दिन बाद कुंभ डयूटी में लगे कर्मचारियों और अधिकारियों को कोविड-19 की आरटी-पीसीआर जांच करानी होगी. इसके साथ उन्‍होंने कहा कि ऐसा नहीं करने वाले अधिकारियों और कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

मेला पुलिस, जिला प्रशासन व मेला प्रशासन की इस संयुक्त बैठक में जिलाधिकारी ने हर सेक्टर में विभागों के अफसरों और सेक्टर मजिस्ट्रेट को क्विक रिस्पांस टीम बनाने का निर्देश दिया, ताकि किसी भी परिस्थिति में त्वरित कार्रवाई की जा सके. जिलाधिकारी सी रविशंकर ने कहा कि स्नान के दौरान कोरोना जांच के लिए 70 से अधिक टीमें लगाई जाएंगी जो श्रद्धालुओं की थर्मल स्क्रीनिंग के साथ-साथ कोरोना की जांच भी करेगी.

बता दें कि अभी तक कुंभ की अधिसूचना जारी नहीं हुई है, लेकिन कोविड-19 के मद्देनजर पहला शाही स्नान कुंभ मेला प्रशासन के लिए किसी चुनौती से कम नहीं माना जा रहा है. बैठक में मेला पुलिस महानिरीक्षक संजय गुंज्याल ने कहा कि मेला नियंत्रण कक्ष में एक वॉर रूम बनाया जाए जिसमें हर विभाग का एक-एक सक्षम अधिकारी स्नान के दौरान मौजूद रहे, ताकि किसी भी विभाग से जुडी समस्या के सामने आने पर तत्काल उसका निराकरण हो सके.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज