लाइव टीवी

हरीश रावत स्टिंग केस में सुनवाई 30 तक टली, शनिवार को ‘ककड़ी-रायता, मशरूम पकौड़ी पार्टी’ देंगे रावत

Virendra Bisht | News18 Uttarakhand
Updated: September 27, 2019, 2:10 PM IST
हरीश रावत स्टिंग केस में सुनवाई 30 तक टली, शनिवार को ‘ककड़ी-रायता, मशरूम पकौड़ी पार्टी’ देंगे रावत
नैनीताल हाईकोर्ट में हरीश रावत स्टिंग केस में सुनवाई टल गई है. कोर्ट इस मामले पर 30 सितम्बर को सुनवाई करेगा.

पिछली सुनवाई में हुए हंगामे के बाद जस्टिस खुल्बे ने यह केस सुनने से इनकार कर दिया था और मामला किसी और बेंच को ट्रांस्फ़र करने की सिफ़ारिश कर दी थी.

  • Share this:
पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत शनिवार को आराम से देहरादून में ‘ककड़ी-रायता, मशरूम पकौड़ी पार्टी’ दे सकेंगे. आज हाईकोर्ट (Nainital High Court) में विधायकों की खरीद फ़रोख़्त मामले के स्टिंग केस (Harish Rawat Sting Case) की सुनवाई टल गई है. कोर्ट अब पूरे मामले पर 30 सितम्बर को सुनवाई करेगा. अब इस मामले की सुनवाई जस्टिस धूलिया (Justice Dhulia) की कोर्ट कर रही है.  आज सीबीआई (CBI) ने फिर कोर्ट में त्वरित सुनवाई और सीबीआई जांच की प्रारंभिक रिपोर्ट को दाखिल करने के लिए मेंशन किया तो कोर्ट ने सीबीआई से कहा कि सीबीआई को जो भी कोर्ट में कहना या दाखिल करना हो शपथ पत्र के साथ दाखिल ही करे.

पिछली सुनवाई में हंगामा

बता दें कि 20 सितंबर को हुई सुनवाई में इस मामले में काफ़ी ड्रामा हुआ था. 20 तारीख को सुनवाई से पहले माना जा रहा था कि सीबीआई को एफ़आईआर दर्ज करने की इजाज़त मिल जाएगी और उसी दिन हरीश रावत की गिरफ़्तारी हो जाएगी. हरीश रावत के साथ एकजुटता दिखाने के लिए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह, नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश के साथ कई कांग्रेसी नैनीताल क्लब पहुंच गए थे.

20 तारीख की सुनवाई में सीबीआई ने एफ़आईआर दर्ज करने की इजाज़त मांगी थी और और हरीश रावत के वकीलों ने बहस करने के लिए समय की मांग की थी. जस्टिस खुल्बे की कोर्ट ने मामला 1 अक्टूबर के लिए स्थगित कर दिया था तो सीबीआई फिर दोपहर में कोर्ट पहुंच गई थी और उसी दिन सुनवाई की मांग की थी. हरीश रावत के वकीलों ने इसका विरोध किया तो हंगामे के बाद जस्टिस खुल्बे ने यह केस सुनने से इनकार कर दिया था और मामला किसी और बेंच को ट्रांस्फ़र करने की सिफ़ारिश कर दी थी.

जस्टिस धूलिया की कोर्ट में सुनवाई 

गुरुवार को यह केस जस्टिस धूलिया की कोर्ट को अलॉट किया गया था. आज सुबह जस्टिस धूलिया ने केस की सुनवाई शुरु की और सीबीआई को शपथपत्र के साथ ही प्रारंभिक रिपोर्ट दाखिल करने के निर्देश देकर केस को 30 सितंबर के लिए स्थगित कर दिया.

इससे पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत देहरादून में दी जा रही प्रिय ‘ककड़ी-रायता, मशरूम पकौड़ी पार्टी’ की मेज़बानी कर पाएंगे. दरअसल हरीश रावत पहाड़ी व्यंजनों, पहाड़ी फलों की पार्टी देते रहते हैं जिसमें विभिन्न वर्गों के साथ ही कई बार अन्य पार्टियों के लोग भी शामिल होते हैं.ये भी देखें: 

हरीश रावत स्टिंग केसः जज ने केस सुनने से किया इनकार, दूसरी बेंच को किया रेफ़र

सीबीआई के शरण में चली गई है भाजपा : हरीश रावत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देहरादून से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 27, 2019, 12:35 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर