उत्तराखंड में आज और कल फिर भारी बारिश का अलर्ट, बिजली गिरने की भी चेतावनी

मौसम विभाग ने उत्तराखंड में 28 जुलाई और 29 जुलाई को भारी से बहुत भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है.

बहुत भारी बारिश के अलर्ट को देखते हुए आपदा प्रबंधन विभाग ने सभी संबंधित अधिकारियों को पर अलर्ट रहने के निर्देश दिए हैं.

  • Share this:
देहरादून. मौसम विभाग ने उत्तराखंड में 28 जुलाई और 29 जुलाई को भारी से बहुत भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है. मौसम विज्ञान केंद्र, देहरादून के मुताबिक पिथौरागढ़, बागेश्वर, नैनीताल, चंपावत, उधम सिंह नगर और पौड़ी में कहीं-कहीं तेज बारिश के साथ भारी से बहुत भारी बारिश की संभावना है. इसके साथ ही प्रदेश में कहीं-कहीं बिजली गिरने की भी संभावना जताई गई है. मौसम विभाग के मुताबिक 30 जुलाई को पौड़ी और चमोली में भारी बारिश हो सकती है. इसके साथ ही प्रदेश कि ज्यादातर जिलों में हल्की से मध्यम बारिश के आसार बने हुए हैं.

सड़कें बंद 

पूरे प्रदेश की बात करें तो 50 से ज्यादा सड़क मार्ग बारिश की वजह से मलबा आने के कारण या फिर लैंडस्लाइड होने के कारण बंद पड़े हैं. इनमें पिथौरागढ़ ज़िले में एक स्टेट हाईवे, दो बॉर्डर रोड, 20 ग्रामीण सड़कें बंद हैं. इसी तरह देहरादून में एक स्टेट हाईवे और 7 ग्रामीण सड़कें बंद हैं और पौड़ी ज़िले में तीन ग्रामीण सड़कें बंद हैं.

चमोली ज़िले में दो ग्रामीण सड़कें बंद हैं. बागेश्वर जिले में 5 ग्रामीण सड़कें, चंपावत में भी 5 ग्रामीण सड़कें बंद हैं. टिहरी ज़िले में ऋषिकेश-श्रीनगर NH-58 तोता घाटी के पास लैंडस्लाइड होने के कारण बंद है. इसके अलावा तीन ग्रामीण मोटर मार्ग भी बंद पड़े हैं.

हाई अलर्ट पर 

उत्तराखंड में मौसम विज्ञान केंद्र, देहरादून के 28 और 29 जुलाई को दिए गए भारी से बहुत भारी बारिश के अलर्ट को देखते हुए आपदा प्रबंधन विभाग ने सभी संबंधित अधिकारियों को पर अलर्ट रहने के निर्देश दिए हैं. जिन ज़िलों के लिए मौसम विभाग ने अलर्ट जारी किया है वहां सभी सुरक्षा एजेंसियों को अलर्ट पर रखा गया है.

इसके साथ ही पिथौरागढ़, बागेश्वर, नैनीताल, चंपावत, ऊधम सिंह नगर, पौड़ी, देहरादून, हरिद्वार और टिहरी ज़िलों के जिलाधिकारियों को हाई अलर्ट पर रहने को कहा गया है. इनके अलावा एसडीआरएफ़, एनडीआरएफ़, पीडब्ल्यूडी, आईटीबीपी, बीआरओ के साथ पुलिस और आपदा प्रबंधन विभाग के अधिकारियों को हाई अलर्ट पर रखा गया है.

बारिश के हालात को देखते हुए आपदा प्रबंधन विभाग नेशनल हाईवे, स्टेट हाईवे और ग्रामीण सड़कों के लैंडस्लाइड प्रोन एरिया पर विशेष नजर रख रहा है. सड़क बंद होने की हालत पर तुरंत सड़क खोलने के लिए जेसीबी मशीन के साथ डोजर भी ब्लैक स्पॉट एरिया के आसपास तैनात किए गए हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.