अलर्ट : उत्तराखंड में उफान पर नदियां, खिसक रही ज़मीन तो दरक रही हैं चट्टानें

ऋषिकेश और पिथौरागढ़ में नदियां उफान पर हैं.

Uttarakhand Weather Alert : ​ऋषिकेश में गंगा के किनारों को लेकर अलर्ट जारी कर दिया गया है, तो पिथौरागढ़ और चमोली जैसे इलाकों में हालात मुश्किल हो रहे हैं. कई रास्ते बंद पड़े हैं, तो कई खतरनाक बने हुए हैं.

  • Share this:
    देहरादून. उत्तराखंड राज्य के पहाड़ी इलाकों में मानसून के शुरुआती तेवरों ने ही मुश्किलें खड़ी कर दी हैं. पिथौरागढ़ और चमोली जैसे सीमांत ज़िलों के साथ ही ऋषिकेश जैसे इलाकों में भी नदियां उफान पर बह रही हैं. भारी बारिश के चलते पिछले कुछ दिनों से लगातार मुश्किलों का दौर बना हुआ है. पिथौरागढ़ में शुक्रवार को घाट नेशनल हाईवे ठप रहने की खबर थी, तो चमोली में बद्रीनाथ नेशनल हाईवे पर यातायात प्रभावित होने की. राज्य की कई नदियों में जलस्तर बढ़ जाने की भी खबरें थीं, ताज़ा खबर यह है कि राज्य के कंट्रोल रूम ने ऋषिकेश में गंगा नदी के किनारों पर अलर्ट जारी किया है.

    पिथौरागढ़ की बंगापनी तहसील से जोखिम और खतरे की बानगी देती तस्वीरें सामने आ रही हैं. पिछले 48 घंटों से हो रही भारी बारिश के चलते यहां नदियां उफान पर हैं. इसके साथ ही, भू कटाव हो रहा है, तो कहीं भूस्खलन. नदियों के उफान पर बहने के वीडियो जो वायरल हो रहे हैं, उनमें कहीं पेड़ तो कहीं दुकानें ज़द में दिख रही हैं. बता दें कि पिछले साल भी यहां इसी तरह तबाही मची थी, जब 11 लोग की मौत हुई थी.

    ये भी पढ़ें : कैसे सपनों की नगरी बनेगी दिल्ली? यह मास्टर प्लान बनाएगा IIT रुड़की



    दूसरी तरफ, समाचार एजेंसी एएनआई ने खबर दी है कि अलकनंदा नदी में जलस्तर बढ़ जाने के बाद स्टेट कंट्रोल रूम ने अलर्ट जारी करते हुए ऋषिकेश में गंगा नदी के किनारों पर अतिरिक्त सतर्कता बढ़ाने की हिदायतें दीं. पिथौरोढ़ में धौलीगंगा समेत सरयू और काली नदियों के उफान पर होने के बारे में न्यूज़18 ने शुक्रवार को विस्तार से खबर दी थी.

    ये भी पढ़ें : पिथौरागढ़ में हाईवे पर यातायात बंद, 55 घंटे से लोग फंसे, राशन और सब्जियों की सप्लाई नहीं

    वहीं, अल्मोड़ा में भी भारी बारिश के चलते आधा दर्जन से ज़्यादा सड़कें टूट जाने से ग्रामीण इलाकों से संपर्क कट गया है. बिजली कई गांवों में गुल बताई गई. इसके साथ ही, घाट-पिथौरागढ़, धारचूला लिपुलेख, कोटा मलोन, मदकोट बोना, मदकोट दारमा, रायाबजेता बंगापानी-जाराजिबली जैसे कई मार्गों पर ट्रैफिक लगातार प्रभावित बताया जा रहा है. टनकपुर पिथौरागढ़ जैसे कुछ रास्तों पर मलबा बहकर आ रहा है, तो कुछ रास्तों पहाड़ों से पत्थर गिर रहे हैं. कुल मिलाकर यात्रियों और स्थानीय लोगों को सतर्क रहने की हिदायत दी जा रही है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.