Home /News /uttarakhand /

hotelier angry with uttarakhand government protested in bhagirathi river know what is the reason nodss

उत्तराखंड में सरकार से नाराज व्यापारी भागीरथी नदी में उतरे, जानें क्या है कारण

उत्तराखंड में होटल व्यापारियों ने भागीरथी नदी में उतर कर सरकार के विरोध में प्रदर्शन किया.

उत्तराखंड में होटल व्यापारियों ने भागीरथी नदी में उतर कर सरकार के विरोध में प्रदर्शन किया.

पंजीकरण न करवाए जाने पर अब चारधाम यात्रा पर आ रहे यात्रियों को ऋषिकेश बैरियर पर रोका जा रहा है और उन्हें वापस भेजा जा रहा है. इसको लेकर होटल व्यवसाइयों में खासी नाराजगी है. उनके मुताबिक यात्रियों ने होटलों में बुकिंग करवा रखी हैं और उनके वापस लौटने के चलते उन्हें नुकसान हो रहा है.

अधिक पढ़ें ...

उत्तरकाशी. चारधाम यात्रा 2022 के प्रवेश बैरियर्स पर बिना पंजीकरण वाले यात्रियों को रोककर वापस भेजा जा रहा है. सरकार के इस निर्णय पर उत्तरकाशी होटल एसोसिएशन ने कड़ी नाराजगी जताते हुए प्रर्दशन किया. एसोसिएशन से जुड़े पदाधिकारियों ने आज मणिकर्णिका घाट पर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए जल समाधि के लिए भागीरथी नदी में उतरे. इस दौरान भारी पुलिस बल मणिकर्णिका घाट पर मौजूद थी. होटल एसोसिएशन से जुड़े लोगों ने प्रदर्शन करते हुए नदी में जल समाधि के लिए उतरे. इस दौरान पुलिस के जवानों ने होटल व्यवसायी को नदी में उतर कर बलपूर्वक बाहर निकाला.

वहीं होटल कारोबारी की नाराजगी को देखते हुए भाजपा गंगोत्री विधायक सुरेश चौहान भी मौके पर पहुंचे. लेकिन होटल एसोसिएशन से जुड़े लोगों ने सरकार के इस निर्णय के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. होटल व्यवसाय से जुड़े लोगों का कहना है कि सरकार जिस निर्णय को 3 माह पहले लेना था वह सरकार तीन दिन पहले ले रही है. होटल में एडवांस बुकिंग है लेकिन यात्री हरिद्वार से ऊपर नही आ पा रहा हैं. गंगोत्री विधायक के ठोस अश्वशन के बाद ही होटल व्यवसाय से जुड़े लोगो को शांत कराया जा सका.
उत्तरकाशी होटल एसोसिएशन के अध्यक्ष शैलेंद्र मटूड़ा ने कहा कि यात्रियों को ऋषिकेश के भद्रकाली बैरियर पर रोक कर पंजीकरण के लिए कहा जा रहा है. कई यात्रियों को पंजीकरण के बारे में जानकारी नहीं हैं, जिसके बाद उनको वापस भेजा जा रहा है. शैलेन्द्र ने कहा कि इस निर्णय से होटल व्यवसायियों को खासा नुकसान हो रहा है, तीर्थयात्री अपनी बुकिंग निरस्त करवा रहे हैं. जो निर्णय सरकार को तीन माह पहले लेना वह निर्णय सरकार 3 दिन पहले ले रही है.

गंगोत्री विधायक सुरेश चौहान ने कहा सरकार यात्रा को लेकर गंभीर है. होटल व्यवसायियों की मांग भी जायज है. उन्होंने इस मामले में सरकार के पर्यटन सचिव ,पर्यटन मंत्री भाजपा प्रदेश अध्यक्ष से वार्ता की है. वह सीएम पुष्कर धामी से खुद इस मामले में वार्ता करेंगे. उम्मीद है जल्द मामले का हल निकाला जाएगा.

Tags: Chardham Yatra, Uttarakhand news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर