Home /News /uttarakhand /

how bjp setting youth vs senior narrative why leaders unhappy with mahendra bhatt strategy

उत्तराखंड BJP में ऐसे सेट हो रहा युवा बनाम सीनियर फाॅर्मूला, महेंद्र भट्ट की स्ट्रेटजी से उड़ी वरिष्ठों की नींद!

बीएल संतोष के साथ उत्तराखंड भाजपा के नवनियुक्त प्रदेशाध्यक्ष महेंद्र भट्ट.

बीएल संतोष के साथ उत्तराखंड भाजपा के नवनियुक्त प्रदेशाध्यक्ष महेंद्र भट्ट.

भाजपा के अंदरखानों में चर्चा थी कि 15 अगस्त के बाद प्रदेश संगठन की ओवरहाॅलिंग को लेकर बड़ी घोषणाएं हो सकती हैं. अब 25 अगस्त तक टीम महेंद्र की घोषणा के आसार हैं और जिस तरह के फाॅर्मूले सेट हो रहे हैं, उनसे कई नेताओं में खलबली देखी जा रही है.

अधिक पढ़ें ...

देहरादून. बीजेपी प्रदेश संगठन में अब कई सीनियर नेता मार्गदर्शक मंडल की शोभा बढ़ाएंगे और उनकी जगह संगठन की मेन बॉडी में अब युवाओं को कमान थमाने की तैयारी है. 2024 के मद्देनजर किए जा रहे इन बदलावों में 70 से 80 फीसदी पदाधिकारी बदल दिए जाएंगे. माना जा रहा है कि भारतीय जनता पार्टी के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र भट्ट अपनी नयी टीम से जुड़े बड़े ऐलान 25 अगस्त तक कर सकते हैं. इस नयी टीम के लिए युवाओं का नया गणित तैयार किया जा रहा है तो कई नाम इसलिए भी चर्चा में चल रहे हैं क्योंकि उनकी जगह संगठन के सक्रिय पदों से खो सकती है.

बीजेपी ने 2024 के मद्देनजर संगठन में टॉप टू बॉटम बदलाव की कवायद शुरू कर दी है. महेंद्र भट्ट को संगठन की कमान सौंपने के बाद अब पार्टी में टीम महेंद्र के सिलेक्शन को लेकर माथापच्ची चल रही है. टीम का स्वरूप क्या हो? इसके लिए भट्ट को राष्ट्रीय नेतृत्व से स्पष्ट दिशा निर्देश पहले ही मिल चुके हैं. संगठन के मौजूदा पदाधिकारियों में से 70 फीसदी को बदलकर उनकी जगह युवा नेताओं को प्राथमिकता दी जाएगी. संगठन में अधिकतम एज लिमिट 60 साल रखी गई है तो जिलाध्यक्ष के लिए 50 साल.

भट्ट के फाॅर्मूले से सीनियरों में खलबली!

भट्ट का कहना है कि वह खुद युवा हैं तो उनकी टीम भी युवा होगी. उन्होंने कहा, सीनियरों का मार्गदर्शन रहेगा और युवाओं पर फोकस रहेगा. यही फाॅर्मूला पार्टी की यूथ विंग में भी अप्लाई किया जाएगा. भाजयुमो में 35 साल से ऊपर का कोई पदाधिकारी नहीं होगा. भट्ट कैबिनेट में जातीय और क्षेत्रीय समीकरणों को भी साधने की तैयारी है. हालांकि बीजेपी के सीनियर नेता भट्ट के इस विजन को लेकर ज्यादा खुश नजर नहीं दिख रहे.

पार्टी में कई महत्वपूर्ण पदों पर रह चुके सीनियर लीडर प्रकाश सुमन ध्यानी का कहना है कि संगठन में सीनियर और युवा नेताओं का सामंजस्य ज़रूरी है. उन्होंने कहा कि केंद्रीय टीम में भी इस कॉम्बिनेशन को देखा जा सकता है. दूसरी तरफ, जैसे ही भट्ट अपनी नयी टीम का ऐलान करेंगे, दायित्वधारियों पर विचार भी शुरू होगा.

ऐसे किया जाएगा दायित्वों में एडजस्टमेंट

मौजूदा पदाधिकारियों में से कुछ को सरकारी विभागों के दायित्व देकर एडजस्ट किए जाने की रणनीति भी बन रही है. बाकी नेता मार्गदर्शक मंडल की शोभा बढ़ाएंगे. इनमें वो नेता भी शामिल होंगे, विधानसभा चुनाव में संगठन की गुड बुक के हिसाब से जिनका ट्रैक रिकॉर्ड ठीक नहीं रहा. मार्गदर्शक मंडल की इसी लिस्ट ने अभी से कई भाजपाइयों की नींद उड़ा दी है.

Tags: Uttarakhand BJP, Uttarakhand politics

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर