लाइव टीवी

उत्तराखंड में पंचायत चुनाव के दौरान भारी मात्रा में पकड़ी गई अवैध शराब, हरियाणा-हिमाचल से हो रही थी सप्लाई

Mukesh Bhatt | News18 Uttarakhand
Updated: November 18, 2019, 5:31 PM IST
उत्तराखंड में पंचायत चुनाव के दौरान भारी मात्रा में पकड़ी गई अवैध शराब, हरियाणा-हिमाचल से हो रही थी सप्लाई
विकासनगर की पुलिस ने पिछले 2 माह के दौरान नशे के खिलाफ अभियान चलाते हुए करीब 30 लाख का अवैध शराब बरामद किया.

उत्तराखंड में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के दौरान हरियाणा व हिमाचल (Haryana and Himachal) से अवैध शराब की तस्करी रोकने के लिए अंतरराज्यीय बॉर्डर पर चेकिंग (Checking on Interstate Border) के दौरान बड़ी मात्रा में शराब का जखीरा बरामद हुआ. साथ ही 20 ग्राम स्मैक भी पकड़ी गई जिसकी कीमत 60 हजार रुपये आंकी गई है.

  • Share this:
देहरादून. राजधानी देहरादून (Dehradun) में विकासनगर की पुलिस (Vikasnagar Police) ने पिछले 2 माह के दौरान नशे के खिलाफ अभियान चलाते हुए करीब 30 लाख का अवैध नशा बरामद किया. इसमें 5,500 अवैध अंग्रेजी शराब की बोतलों के साथ 10 पेटी देसी शराब और 160 लीटर कच्ची शराब (Heavy Quantity of Liquor) शामिल है. पकड़ी गई अवैध शराब की अधिकतर बोतलें हरियाणा (Haryana) की हैं. इसके अलावा पुलिस ने कुछ लोगों को स्मैक व अन्य नशीले पदार्थों के साथ गिरफ्तार किया. नशाखोरी के धंधे में शामिल मेडिकल स्टोर संचालकों पर भी पुलिस ने कार्रवाई करते हुए बड़ी मात्रा में नशीली दवाइयां बरामद की हैं.

नशे के खिलाफ अभियान 

कोतवाल विकासनगर प्रदीप बिष्ट ने कहा कि उत्तराखंड में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव (Panchayat Election) के शुरू होते ही अवैध नशे के खिलाफ अभियान शुरू किया गया था. इस दौरान शराब की काफी शिकायतें मिलीं. हरियाणा व हिमाचल (Haryana and Himachal) से अवैध शराब की तस्करी रोकने के लिए अंतरराज्यीय बॉर्डर पर चेकिंग (Checking on Interstate Border) के दौरान बड़ी मात्रा में शराब का जखीरा बरामद हुआ. साथ ही 20 ग्राम स्मैक भी पकड़ी गई जिसकी कीमत 60 हजार रुपये आंकी गई है.



कोतवाल बिष्ट ने कहा कि क्षेत्र में नशे के खिलाफ अभियान के दौरान पुलिस को बड़ी सफलता मिली है. इसे देखते हुए अभियान आगे भी जारी रहेगा ताकि क्षेत्र में अवैध नशे के कारोबार पर पूरी तरह से अंकुश लगाया जा सके.

ये भी पढ़ें - पार्टी की भलाई के लिए बागियों के स्वागत को तैयार हैं हरीश रावत, पर शर्त के साथ

ये भी देखें - 14 बार के अनशन से नहीं हुआ कोई फ़ायदा, सड़क के लिए अब अनिश्चितकालीन धरना

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 18, 2019, 2:22 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...