निकाय चुनाव: BJP-कांग्रेस को झेलना पड़ा बागियों की बगावत का दंश

निकाय चुनाव के नतीजों के बाद भले ही पक्ष-विपक्ष के तमाम दिग्गजों में अब जीत-हार पर समीक्षाओं का दौर शुरू हो गया हो, लेकिन बागियों के तीखे तेवर ने दोनों ही दलों का चुनावी खेल बिगाड़ने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी.

Sonu Singh | News18 Uttarakhand
Updated: November 21, 2018, 5:17 PM IST
निकाय चुनाव: BJP-कांग्रेस को झेलना पड़ा बागियों की बगावत का दंश
प्रतीकात्मक तस्वीर
Sonu Singh | News18 Uttarakhand
Updated: November 21, 2018, 5:17 PM IST
उत्तराखंड में निकाय चुनाव के नतीजों के बाद भले ही पक्ष-विपक्ष के तमाम दिग्गजों में अब जीत-हार पर समीक्षाओं का दौर शुरू हो गया हो, लेकिन बागियों के तीखे तेवर ने बीजेपी-कांग्रेस दोनों ही दलों का चुनावी खेल बिगाड़ने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी.

मालूम हो कि निकाय चुनाव के परिणाम घोषित हो चुके हैं. प्रदेश में कही जश्न तो कहीं गम का माहौल साफ देखा जा सकता है. नतीजों पर विपक्षी पार्टी कांग्रेस के नेता भले ही चुनावी बगावत कम होने से निकाय चुनाव में और बेहतर प्रदर्शन करने का दावा कर रहे हो, लेकिन बागियों से हुए नुकसान को विपक्षी पार्टी के नेताओं को अब स्वीकार करना पड़ा है. शायद यही वजह रही कि कांग्रेस ने हाल ही में करीब 100 बागियों को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाया था. बावजूद इसके करीब आधा दर्जन से अधिक स्थानों पर विपक्षी पार्टी को बागियों से बड़ा नुकसान उठाना पड़ा है.

कांग्रेस प्रदेश उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने भी बागियों के तीखे तेवर के प्रहार से हुए नुकसान को एक्सेप्ट किया है. उन्होंने कहा कि उनके बागी प्रत्याशी कई जगहों पर उनके प्रत्याशी को हराकर जीत गए हैं.

सूबे की सत्ताधारी पार्टी बीजेपी लीडर भी इन बागियों के नुकसान को भविष्य के लिहाज से उचित नहीं मान रहे हैं. क्योंकि करीब 12 स्थानों पर बीजेपी को बागियों की नाराजगी झेलनी पड़ी है. बीजेपी नेता सुरेश जोशी की मानें तो पार्टी स्तर से बागियों को मनाने के हर संभव प्रयास किए गए थे, लेकिन सफलता नहीं मिल पाई. ऐसे में फ्यूचर के बेहतर चुनावी परिणामों के लिहाज से बागियों को मनाने के लिए पार्टी की उच्च स्तरीय रणनीति मे एक बड़ा बदलाव करने की जरूरत है.

बहरहाल, पक्ष-विपक्ष के तमाम नेता बागियों के खेल बिगाड़ने पर जो भी तर्क पेश कर रहे हो, लेकिन अब देखना होगा कि आगामी चुनाव में बीजेपी-कांग्रेस का खेल बागी न बिगाड़ सके. इसके लिए आखिर ये दोनों दल किस फॉर्मूले को अख्तियार करते हैं.

ये भी पढ़ें:- कड़कनाथ को टक्कर देने आ रही है उत्तराखंड की उत्तरा

उत्तराखंड निकाय चुनाव: महापौर की 7 में से 3 सीट पर BJP की जीत, एक पर बढ़त
First published: November 21, 2018, 5:17 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...