Home /News /uttarakhand /

देवस्थानम बोर्ड भंग करने के लिए बढ़ाया प्रेशर, आज तीर्थपुरोहितों ने मनाया काला दिवस, निकाली रैली

देवस्थानम बोर्ड भंग करने के लिए बढ़ाया प्रेशर, आज तीर्थपुरोहितों ने मनाया काला दिवस, निकाली रैली

पुरोहितों ने देवस्थानम बोर्ड को भंग करने की मांग के साथ काला दिवस मनाया और रैली निकाली.

पुरोहितों ने देवस्थानम बोर्ड को भंग करने की मांग के साथ काला दिवस मनाया और रैली निकाली.

Clash Between Priests and Police : चार धाम से आए तीर्थ पुरोहित देहरादून के गांधी पार्क में एकत्रित हुए. यहां पर उन्होंने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और अपनी जनआक्रोश रैली निकाली. फिर यह रैली सचिवालय के पास पहुंची. जहां पर पहले से तैनात पुलिस ने उन्हें रोक लिया. पुलिस और तीर्थ पुरोहितों में हल्की नोकझोंक भी हुई.

अधिक पढ़ें ...

देहरादून. उत्तराखंड में देवस्थानम बोर्ड को भंग करने की मांग को लेकर चारधाम तीर्थ पुरोहित, हक-हकूकधारी महापंचायत ने आज काला दिवस मनाया और विरोध स्वरूप सचिवालय की ओर चले. लेकिन ये लोग सचिवालय पहुंचते उससे पहले ही पुलिस ने बैरिकेड्स लगाकर सबको रोक लिया. बता दें कि दो साल पहले आज के दिन ही 27 नवंबर को श्राइन बोर्ड के गठन का प्रस्ताव पारित हुआ था. जिसका नाम बाद में देवस्थानम बोर्ड किया गया.

तीर्थ पुरोहित इस बोर्ड को खत्म करने के लिए लगातार आंदोलन करते रहे, लेकिन सरकार उच्चस्तरीय कमेटी की बात कहकर तीर्थ पुरोहितों के हक से लगातार खिलवाड़ करती आई है. कई बार तीर्थ पुरोहित प्रदर्शन कर चुके हैं. आम आदमी पार्टी भी शुरू से देवस्थानम बोर्ड का विरोध करती आई है और इसको भंग करने को लेकर कई बार 70 विधानसभाओं में इसका विरोध कर चुकी है. आम आदमी पार्टी की मांग है कि सरकार तत्काल बोर्ड को भंग करे, नहीं तो फिर आम आदमी पार्टी फिर सड़कों पर उतर कर आंदोलन करेगी.

आज तीर्थ पुरोहितों ने काला दिवस मनाते हुए सचिवालय कूच किया, जहां इस आंदोलन को समर्थन देने के लिए आप पार्टी की ओर से प्रदेश प्रवक्ता संजय भट्ट, उमा सिसोदिया, नवीन पिरसाली, रविन्द्र पुंडीर, डिम्पल समेत कई कार्यकर्ता पहुंचे थे. चार धाम से आए तीर्थ पुरोहित देहरादून के गांधी पार्क में एकत्रित हुए. यहां पर उन्होंने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और अपनी जनआक्रोश रैली निकाली. फिर यह रैली सचिवालय के पास पहुंची. जहां पर पहले से तैनात पुलिस ने उन्हें रोक लिया. पुलिस और तीर्थ पुरोहितों में हल्की नोकझोंक भी हुई.

इस दौरान आप प्रवक्ता संजय भट्ट ने बताया कि ये बोर्ड तीर्थपुरोहितों के हक पर सरकार का सीधा डाका है. सरकार अब मंदिरों को भी अपने अधीन करने में आमादा है. इसका आप पार्टी पुरजोर विरोध करती है. उमा सिसोदिया ने कहा कि आप पार्टी शुरू से ही देवस्थानम बोर्ड के विरोध में खड़ी है और इस बोर्ड को भंग करने की मांग करती है. उन्होंने कहा कि बोर्ड बनाने वाले त्रिवेंद्र रावत को इसका दंड भुगतना पडा कि उन्हें केदारनाथ में बाबा केदार के दर्शनो से वंचित होना पड़ा. उन्होंने कहा कि अगर ये बोर्ड जल्द ही भंग नहीं किया जाता तो बीजेपी को अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहना चाहिए. जब तक बोर्ड को तत्काल प्रभाव से भंग नहीं किया जाता तब तक आप पार्टी तीर्थ पुरोहितों का पुरजोर समर्थन करती रहेगी और इसके लिए सड़कों पर उतर कर भी प्रदर्शन करेगी.

Tags: Chardham Panda Purohit, Devasthanam Board, Uttarakhand News Today

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर