IPS अफसर ने छात्र को इतना पीटा कि पीठ पर उभरे निशान, सिगरेट से जलाने का आरोप, DG से शिकायत
Dehradun News in Hindi

IPS अफसर ने छात्र को इतना पीटा कि पीठ पर उभरे निशान, सिगरेट से जलाने का आरोप, DG से शिकायत
डीजी अशोक कुमार (DG Ashok Kumar) से मामले की शिकायत करने के बाद पीठ पर मारपीट के निशान को दिखाता युवक.

देहरादून (Dehradun) में तैनात वरिष्ठ IPS अफसर के ऊपर छात्र के साथ अमानवीय बर्ताव करने का लगा आरोप. शिकायत के बाद अफसर ने पीड़ित छात्र के ड्रग्स तस्करी में शामिल होने और बेटी का पीछा करने का लगाया आरोप. DIG ने सिटी एसपी को मामले की जांच करने का दिया आदेश.

  • Share this:
देहरादून. उत्तराखंड की राजधानी देहरादून (Dehradun) में एक बड़ी खबर सामने आई है, जहां राज्य के सीनियर आईपीएस अधिकारी ने कैंट थाना क्षेत्र (Cant Police Station Area) की बिंदाल चौकी में बुलाकर 11वीं में पढ़ने वाले छात्र को जमकर पीटा है. पिटाई के निशान छात्र की पीठ पर साफ तौर पर दिखाई दे रहे हैं. इतना ही नहीं उसे सिगरेट से भी दागा गया है, जिसकी शिकायत छात्र के परिजनों ने मंगलवार को डीजी अशोक कुमार (DG Ashok Kumar) से की है. वहीं, मामले में आईपीएस अधिकारी का कहना है कि यह लड़का उनकी बेटी का पीछा कर रहा था. साथ ही वह छात्र ड्रग्स की तस्करी भी करता है. इसी के बारे में उसे पूछताछ के लिए थाने में बुलाया गया था.

इधर, अपनी पीठ पर चोट के गंभीर निशान दिखाते हुए 18 वर्षीय पीड़ित ने कहा कि वह 11वीं का छात्र है. उसने राज्य के सीनियर आईपीएस अफसर पर आरोप लगाया है कि सोमवार की दोपहर उसके पास सीनियर अधिकारी का फोन आया था. उसे बिंदाल चौकी पहुंचकर कुछ जरूरी बात करने को कहा गया था. छात्र ने कहा कि वह अपने पिता के साथ आएगा. लेकिन एडीजी ने कहा कि पिता को लाने की कोई जरूरत नहीं है. पांच मिनट बात करनी है, फिर चले जाना. पीड़ित युवक ने कहा कि थाने पहुंचते ही एडीजी ने साथी पुलिसकर्मियों के साथ मिलकर उसे पीटना शुरू कर दिया. साथ ही साथ कपड़े उतारकर मेरी फोटो भी ली.

उन्होंने मुंह बंद रखने की धमकी दी
युवक ने आरोप लगाया कि मारपीट के बाद उन्होंने मुंह बंद रखने की धमकी दी और कहा कि नहीं तो पूरे परिवार को केस में फंसा दिया जाएगा. छात्र के परिजनों ने मामले की शिकायत डीजी कानून व्यवस्था के साथ-साथ डीआईजी दून से भी की है. डीआईजी दून अरुण मोहन जोशी ने मामले की गंभीरता को देखते हुए एसपी सिटी श्वेता चौबे को जांच सौंप दी है. उन्होंने कहा कि रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की जाएगी. वहीं, मामले में जब अधिकारी से न्यूज़ 18 ने फोन पर बात की तो उनका कहना था कि ये लड़का उनकी बेटी का पीछा कर रहा था. और उनको कॉल कर उनकी बेटी के बारे में पूछताछ कर रहा था. वहीं, जब इससे पूछताछ की गई तो पता चला कि ये ड्रग्स का धंधा करता है और कई नाबलिग इसकी चपेट में आ चुके हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज